अगले पांच साल के फ्यूचर टूर प्रोग्राम जारी, पहले सत्र में नौ शीर्ष की लेंगे भाग

भारत इस साल के अंत में वेस्टइंडीज की मेजबानी भी करेगा

दुबई, भारतीय टीम विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में अपनी शुरुआती सीरीज खेलने वेस्टइंडीज का दौरा करेगी। यह जानकारी बुधवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) द्वारा अगले पांच साल (2018-2023) के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) में दी गई।

आइसीसी ने बताया कि डब्ल्यूटीसी के तहत भारत वेस्टइंडीज में दो टेस्ट सीरीज खेलेगा।15 जुलाई 2019 से 30 अप्रैल 2021 तक चलने वाली टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सत्र में नौ शीर्ष टीमें भाग लेंगी। वेस्टइंडीज सीरीज 2019 मे विश्व कप के बाद खेली जाएगी। इस दौरे में टेस्ट के अलावा भारत मेजबान टीम से तीन वनडे और इतने ही टी-20 भी खेलेगा।

भारत इस साल के अंत में वेस्टइंडीज की मेजबानी भी करेगा, जिसमें चार टेस्ट, पांच वनडे और तीन टी-20 खेले जाएंगे। विश्व चैंपियनशिप में भारत का अगला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से होगा, जिसकी वह तीन टेस्ट के लिए मेजबानी करेगा।

यह सीरीज अक्टूबर 2019 में होगी, जिसके बाद बांग्लादेश दो टेस्ट और तीन टी-20 खेलने के लिए भारत का दौरा करेगा। चैंपियनशिप में इसके बाद भारत की अगली दो सीरीज 2020-21 में न्यूजीलैंड (दो टेस्ट) और ऑस्ट्रेलिया (चार टेस्ट) में होंगी। इसके बाद वह घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के साथ पांच टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगा।

माना जा रहा है कि चैंपियनशिप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला नहीं होगा, हालांकि फाइनल में वे एक-दूसरे से भिड़ सकते हैं। भारत इस चैंपियनशिप में कुल 18 टेस्ट खेलेगा, जिसमें से 12 ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ होंगे।

Back to top button