प्रदेश में चुनाव जितना है तो बूथों को मजबूत करना सबसे जरुरी : पीएल पुनिया

प्रदेश में चुनाव जितना है तो बूथों को मजबूत करना सबसे जरुरी : पीएल पुनिया

रायपुर : छत्तीसगढ़ में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर प्रदेश के राजनीतिक दलों में हलचल तेज हो गई है. भाजपा के सह संगठन मंत्री सौदान सिंह जहाँ बस्तर में अपनी पार्टी का जनाधार मजबूत करने के लिए लगे हुए हैं तो कांग्रेस ब्लाक और बूथ स्तर पर अपने कार्यकर्ताओं को चार्ज करने में जुट गई है.

इसी कड़ी में रविवार को प्रदेश कांग्रेस के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया ने जिला प्रभारी, जिला अध्यक्ष, ब्लाक प्रभारियों की बैठक ली. इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल सहित कांग्रेस के कई बड़े नेता मौजूद थे.

बैठक में पुनिया ने पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि चुनाव के समय वैसे तो जिम्मेदारी सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं की होती है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी बूथ स्तर के नेताओं की होती है.

उन्होंने कहा कि अगर पार्टी को किसी बूथ से कम वोट मिलता है तो उसकी जिम्मेदारी बूथ अध्यक्ष और उसकी कार्यकारणी की होती है.

पुनिया ने कहा कि सेक्टर स्तर पर चुनाव होने के बाद अब बूथ के पदाधिकारियों का चुनाव होना है ऐसे में सभी को 15 जनवरी तक अपने अपने बूथ के नेताओं की बैठक आयोजित कर काम पूरे करने होंगे. इस बैठक में पुनिया ने साफ कर दिया कि जिनको चुनाव नहीं लड़ना है उनको ब्लाक अध्यक्ष की जिम्मेदारी दिया जायेगा.

वहीँ इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने भी कड़ा रुख अपनाया. उन्होंने पदाधिकारियों को कड़े लहजे में कहा है कि जिनको चुनाव में अपनी दावेदारी पेश करनी है वो प्रभारी की जिम्मेदारी ना ले और अपने क्षेत्र में रहकर पार्टी को मजबूत बनाने का काम करे.

भूपेश बघेल ने कहा कि इस बार कांग्रेस से प्रत्याशी चुनाव लडेगा लेकिन संगठन उसमे मजबूती के साथ रहेगा. इस मौके पर बाहर से आने वाले कार्यकर्ताओं पर भी चर्चा की गई.

जिसमे कहा गया कि इस बार हर कोई अपने अपने क्षेत्र में ही काम देखे दुसरे के क्षेत्र में जाकर वहां के कार्यकर्ताओं का मोरल डाउन ना करे.

advt
Back to top button