कागजों में कर दिया खुले में शौचमुक्त, इधर अधिकारी बोले- जांच के बाद होगी कार्रवाई

जैजैपुर।

जिला जांजगीर-चांपा में जनपद पंचायत जैजैपुर को ओडीएफ घोषित किया जा चुका है। मामला ग्राम पंचायत अकलसरा का है। जहां 30 दिसंबर 2017 को सरपंच और सचिव ने गांव को खुले में शौच मुक्त कर दिया था।

यहां 645 शौचालय निर्माण होना था लेकिन सरपंच,सचिव ने अपने ग्राम को सिर्फ कागजों में खुले में शौचमुक्त किया। जब हमारी टीम ग्राम पंचायत पहुंची तो नजारा कुछ और ही मिला। ग्राम की महिला सविता बाई ने बताया कि हमारे घर अभी तक शौचालय नहीं बना है।

ईंट और रेत पड़ी हुई है। उन्होंने बताया कि किसी भी घर शौचालय सही तरीका से नहीं बना है। किसी में दरवाजे नहीं तो किसी का गड्डा खुदाई नहीं हुआ। इसलिए शौच के लिए बाहर जाना मजबूरी है। ग्रामीणों ने बताया कि सरपंच, सचिव ने शासन को धोखे में रख कर ग्राम को ओडीएफ कर दिया है और सरपंच सचिव ने जनपद को ओडीएफ प्रमाणपत्र प्रस्तुत कर दिया है।

जैजैपुर मुख्यकार्यपालन अधिकारी जी.आर.साहू ने कहा यह कार्य मेरे से आने का पहले हो चुका है। इसलिए मैं इसके बारे में कुछ बता नहीं पाऊंगा। जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी।

Back to top button