सरकारी किताबें लेकर कबाड़ी को बेच रहा था शख्स, अधिकारी के आते ही हुआ फरार

एक तरफ जहां उत्तर प्रदेश में आज पूरी तरह से परिषदीय विद्यालयों को पठन-पाठन के लिए खोल दिया गया. वहीं दूसरी तरफ चंदौली में परिषदीय विद्यालयों की सरकारी किताबों की एक बड़ी खेप कबाड़ी की दुकान पर देखने को मिली. इन किताबों को कबाड़ी के पास बेचने के लिए एक अज्ञात शख्स पहुंचा था, जो फरार बताया जा रहा है. उधर विभागीय अधिकारियों ने इस पूरे मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है. बीएसए का कहना है कि जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

यह पूरा मामला पूर्वी उत्तर प्रदेश के चंदौली इलाके की है. फिलहाल अधिकारी इस मामले की जांच पड़ताल कर रहे हैं. दरअसल शिक्षा विभाग के अधिकारियों को यह सूचना मिली थी कि चंदौली बाजर में स्थित कबाड़ी की एक दुकान पर एक शख्स भारी मात्रा में सरकारी किताबों का बंडल उतार रहा है.

सूचना मिलते ही आनन-फानन में विभागीय अधिकारी मौके पर पहुंचे. लेकिन अधिकारियों के आने की भनक लगते ही किताब बेचने आया हुआ शख्स फरार हो गया. उधर अधिकारियों ने जब कबाड़ी की दुकान पर बड़े किताबों के बंडल को खोल कर देखा तो हैरान रह गए.

यह सभी किताबें परिषदीय विद्यालयों की थी. जिसे स्कूलों में छात्रों के लिए वितरित किया जाता है. इन किताबों में ज्यादातर किताबें तो पिछले सत्र की थी. जबकि कई बंडल किताबें इस वर्तमान सत्र की भी थीं. विभागीय अधिकारियों ने इन सभी किताबों को जब्त कर लिया.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button