जांजगीर में बोले पीएम-ये कौन सा पंजा था जो 1 रुपए को 15 पैसा बना देता था

-2022 तक हर गरीब को घर देने का वादा, रमनसिंह की जमकर तारीफ

जांजगीर।

जांजगीर चांपा जिले में दौर पर पहुंचे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य को 3840 करोड़ रुपए की सौगात दी। पीएम ने जय जुहार के साथ भाषण शुरू किया। उन्होंने मुख्यमंत्री रमन सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने राज्य को प्रगति वाले राज्यों में शामिल किया है। इससे पहले जांजगीर के किसानों ने प्रधानमंत्री मोदी को केले के रेशे व अल्सी से बुना शॉल भेंट किया।

बता दें कि मोदी लगभग साढ़े तीन साल में छठी बार छत्तीसगढ़ दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने कई विकाय योजनाओं का भूमिपूजन भी किया। उन्होंने राज्य शासन की योजनाओं से लाभांवित हितग्राहियों को प्रतीक स्वरूप प्रमाण पत्र भी वितरित किया।

मोदी ने रमन सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने राज्य को प्रगति वाले राज्यों में शामिल कराया है।

उन्होंने गरीब के पैर मे जूते डाले हैं। मोदी ने कहा कि 60 साल के बराबर गैस कनेक्शन चार साल में दिए हैं। पहले रुपया घिसता था लेकिन अब पूरा खर्च होता है। उन्होंने कहा कि पहले राज्य की पहचान नक्सलवाद के रूप में होती थी लेकिन अब विकास के रूप में होती है।

-पीएम ने किया अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों को जिक्र

पीएम ने कहा कि वाजपेयी ने नेकनीयत से तीन राज्यों का निर्माण किया। उस निर्णय के पीछे एक मात्र उद्देश्य था कि उत्तराखंड के पहाड़ों में बसे लोगों का कल्याण करना झारखंड के आदिवासियों को विकास से जोड़ना, छत्तीसगढ़ के छोटे-छोटे शहरों को राष्ट्र की विकास यात्रा में शामिल करना।

प्रधानमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ को समस्याओं से मुक्त करके उसको देश के प्रमुख राज्यों में लाना है। रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ के युवाओं को मजबूत बनाने का काम किया है। हमारी नीतियां स्पष्ट है और हमारी नीयत साफ है। दिल्ली हो या अटलनगर हो।।।एक ही मकसद है- सामान् मानव के जीवन में बदलाव आए।

-इशारों-इशारों में मांंग लिया जनता से समर्थन

मोदी ने कहा कि कई राज्यों में राजनीतिक अस्थिरता चलती रहती है। छत्तीसगढ़ के लोग इतने समझदार हैं कि उनके निर्णय में कभी चूक नहीं रही। राजनीतिक स्थिरता की ताकत है कि आज छत्तीसगढ़ अपनी मर्जी से फैसले ले पा रहा है। आपकी ही ताकत है कि रमन सिंह को दिल्ली की तरफ देखकर फैसला नहीं लेना पड़ रहा है। इसके मूल में राजनीतिक स्थिरता है और लोगों की दूरदर्शिता है।

-कांग्रेस सरकार पर तंज

एक प्रधानमंत्री ने कहा था कि दिल्ली से भेजे जाने वाले एक रुपये में से सिर्फ 15 पैसा ही गरीब तक पहुंचता है। ये कौन सा पंजा था जो 1 रुपये को 15 पैसा बना देता था। पहले गरीब तक 15 पैसे पहुंचता था आज केंद्र सरकार से 100 प्रतिशत राज्य सरकार तक पहुंचता है।

पीएम ने जांजगीर में कहा कि पहले केवल चुनिंदा लोगों को घर मिलता था। गरीब के पास अपना मकान क्यों नहीं होता था । भ्रष्टाचार ने प्रशासन को बर्बाद कर दिया था। हम सभी के विकास के लिए समर्पित हैं। हम सभी को 2022 तक घर देने का इरादा रखते हैं।

Back to top button