22 नवंबर को दिल्ली में भाजपा विपक्षी दलों की बैठक होने की संभावना

भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने के लिए पहले बड़े कदम उठाया

अमरावतीः

साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सत्ताधारी पार्टी भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए विपक्षी दल अपनी ताकत एक करने में जुट गए हैं। ऐसे में अब 22 नवंबर को दिल्ली में सभी प्रमुख विपक्षी दलों की एक बैठक होने की संभावना है जो अगले आम चुनावों से पहले एक बड़ा भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने के लिए पहले बड़े कदम के रूप में देखा जा रहा है।

तेदेपा अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को कहा कि भाजपा विरोधी दल एक साझा मंच तथा भविष्य की योजना बनाने के लिए 22 नवंबर को नई दिल्ली में बैठक करेंगे।

कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत के साथ यहां अपने रिवरफ्रंट आवास पर बैठक के बाद तेलुगु देशम पार्टी के अध्यक्ष ने कहा कि हमारी कोशिश भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ लड़ने के लिए सभी को एक मंच पर लाना है। गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के दूत बनकर यहां आए थे।

नायडू ने कहा कि वह 19 या 20 नवंबर को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे। 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती देने के लिए क्षेत्रीय दलों को मंच पर लाने के प्रयास में पिछले एक महीने में लगभग सभी शीर्ष विपक्षी नेताओं से मिले नायडू ने कहा कि पार्टियां प्रस्तावित बैठक में भविष्य की कार्यवाही पर फैसला करेंगी।

Tags
Back to top button