नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर की गठन की प्रक्रिया शुरू

जिला गठन के संबंध में छत्तीसगढ़ राजपत्र में 11 नवंबर को सूचना प्रकाशित

  • नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के प्रस्तावित स्वरूप और सीमाओं के संबंध में
  • आपत्तियां एवं सुझाव सूचना के प्रकाशन के दिनांक से 60 दिनों की अवधि में किए गए आमंत्रित

रायपुर, 17 नवंबर 2021 : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर की गई घोषणा के अनुसार राज्य शासन द्वारा नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के गठन के संबंध में छत्तीसगढ़ के राजपत्र में 11 नवम्बर 2021 को सूचना का प्रकाशन कर दिया गया है।

राजपत्र में प्रकाशित सूचना के अनुसार नये जिले के संबंध में सूचना के प्रकाशन के दिनांक से 60 दिवस के भीतर प्रस्ताव पर आपत्तियां एवं सुझाव दिये जा सकते हैं। नये जिले के संबंध में आपत्तियां या सुझाव लिखित में सचिव छत्तीसगढ़ शासन, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग मंत्रालय, महानदी भवन केपिटल कॉम्पलेक्स नवा रायपुर अटल नगर जिला-रायपुर को उक्त समयावधि की समाप्ति के पूर्व अग्रेषित किया जा सकता है।

नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर (एम.सी.बी.) के गठन के संबंध में राजपत्र में प्रकाशित सूचना की अनुसूची के अनुसार सरगुजा संभाग के कोरिया जिले की सीमाओं को परिवर्तित कर नया जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर का सृजन करना तथा उसकी सीमाओं को परिभाषित करना प्रस्तावित किया गया है।

छत्तीसगढ़ राजपत्र में

छत्तीसगढ़ राजपत्र में प्रकाशित अनुसूची के अनुसार नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के गठन के लिए परिवर्तन का स्वरूप जिला कोरिया के उपखंड मनेन्द्रगढ़, तहसील मनेन्द्रगढ़ एवं केल्हारी तथा उपखंड भरतपुर, तहसील भरतपुर तथा उपखंड खड़गंवा-चिरमिरी, तहसील खड़गंवा एवं चिरमिरी को समाविष्ट करते हुए, नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर का सृजन प्रस्तावित किया गया है।

प्रकाशित सूचना के अनुसार नवीन जिले की सीमाएं उत्तर में तहसील कुसमी, जिला सीधी एवं जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश, दक्षिण में तहसील पोड़ा उपरोड़ा जिला कोरबा एवं तहसील रामानुजनगर, जिला सूरजपूर छत्तीसगढ़, पूर्व में तहसील बैकुण्ठपुर एवं सोनहत जिला कोरिया छत्तीसगढ़ और पश्चिम में जिला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही छत्तीसगढ़, अनूपपुर एवं शहडोल मध्यप्रदेश है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button