छत्तीसगढ़

जिस तत्परता से नगर निगम द्वारा कार्य किया गया है वह क़ाबिले तारीफ़ -प्रकाश पुंज पाण्डेय

पाण्डेय ने महापौर प्रमोद दुबे और जोन कमिश्नर मिश्रा को किया धन्यवाद

रायपुर: समाजसेवी राजनीतिक विश्लेषक प्रकाश पुंज पाण्डेय ने छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे और जोन कमिश्नर मिश्रा को धन्यवाद देते हुए कहा है कि जिस तत्परता से महापौर और जोन कमिश्नर के हस्तक्षेप के बाद नगर निगम द्वारा कार्य किया गया है वह क़ाबिले तारीफ़ है और इसी तरह से कार्य सतत रूप से हर वार्ड में होने की जरूरत है।

मुद्दा यह है कि वार्ड क्रमांक 61 डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड जोकि रायपुर में भाटागांव में स्थित है, वहां पर तकरीबन 1 साल से राजिम जाने वाली पानी की पाइप लाइन में लीकेज की समस्या थी जो कि धीरे-धीरे बढ़कर एक बड़े रूप में हो गई थी जिसके कारण 24 घंटे पानी की बर्बादी हो रही थी लेकिन किसी ने इस समस्या पर ध्यान नहीं दिया, न ही वहां के स्थानीय पार्षद और न ही विधायक ने।

स्थानीय निवासियों के द्वारा कई बार शिकायतें करने के बावजूद भी इस समस्या का निवारण नहीं हुआ। तब समाजसेवी प्रकाश पुंज पांडेय, जो कि समय-समय पर सामाजिक मुद्दों को उठाते रहते हैं, उन्होंने जब एक बार इस लीकेज को देखा तो वह बहुत ही व्यथित हुए। क्योंकि जल ही जीवन है और जल संरक्षण के लिए हर व्यक्ति को प्रयासरत होना जरूरी है।

प्रकाश पुंज पाण्डेय ने इसकी शिकायत नगर निगम के अधिकारियों को की और मीडिया के माध्यम से भी इस विषय को उठाया लेकिन कोई निराकरण नहीं हुआ। तब प्रकाश पुंज पाण्डेय ने सीधे महापौर से फोन के ज़रिए संपर्क किया और एक फोन के बाद ही तुरंत उन्हें नगर निगम के जोन कमिश्नर मिश्रा जी का फोन आया। तब उन्होंने सारी स्थिति को उनसे अवगत कराया जिसके बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए मात्र हफ्ते भर के अंदर ही इस समस्या का निदान कर दिया गया।

पानी का संरक्षण की ज़िम्मेदारी प्रत्येक देशवासी की

प्रकाश पुंज पाण्डेय ने कहा है कि मुद्दा यह नहीं है कि उनके हस्तक्षेप से इस समस्या का निवारण हुआ जबकि उनका निवास स्थान इस जगह से तकरीबन 1 किलोमीटर दूर है लेकिन मुद्दा यह है कि पानी का संरक्षण की ज़िम्मेदारी प्रत्येक देशवासी की है, प्रत्येक नगर वासी की है, प्रत्येक वार्ड वासी की है। हमें स्वतः ही जागरूक होना पड़ेगा और पानी, शिक्षा, बेरोज़गारी, भुखमरी ऐसी महत्वपूर्ण विषयों पर अपनी आवाज़ को बुलंद करना पड़ेगा तब जाकर जन-चेतना आएगी और प्रशासन भी काम करने के लिए बाध्य होगा।

Tags
Back to top button