किसानों की समृद्धि से सभी वर्गों में आएगी खुशहाली : मुख्यमंत्री बघेल

मुख्यमंत्री शामिल हुए छत्तीगसढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज दुर्ग राज के 73वें वार्षिक अधिवेशन में

रायपुर।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसान समृद्ध होंगे तो समाज के सभी वर्गों में खुशहाली आएगी। श्री बघेल आज दुर्ग जिले के ग्राम-गोढ़ी (विकासखंड धमधा) में छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज दुर्ग राज के 73वें वार्षिक अधिवेशन को मुख्य अतिथि की आसंदी से सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा- छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण के लिए पूर्वजों के सपनों को हम सब सभी मिल-जुलकर साकार करेंगे।

मुख्यमंत्री बघेल आज दुर्ग जिले के धमधा विकासखण्ड के ग्राम गोढ़ी में आयोजित छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज दुर्ग राज के 73वें वार्षिक अधिवेशन को सम्बोधित कर रहे थे। अधिवेशन में मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू विशेष अतिथि के रुप में सम्मिलित हुए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य के स्वप्न दृष्टा डॉ. खूबचंद बघेल ने वर्ष 1967 के राजनांदगांव में आयोजित समाज के प्रथम अधिवेशन में छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण की परिकल्पना की थी।

उन्होंने छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के लिए ठाकुर प्यारेलाल, बैरिस्टर छेदी लाल, मिनीमाता और स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत के योगदान का स्मरण करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य का गठन हुए आज 18 वर्ष पूर्ण हो गए हैं। छत्तीसगढ़ की 80 प्रतिशत आबादी गांवों में बसती है। हम सबको मिल-जुलकर गांवों को समृद्ध करना है। उन्होंने कहा कि खनिज संपदा से परिपूर्ण होने के बाद भी राज्य गठन के बाद जो परिस्थिति निर्मित हुई हैं, वह चिंतन का विषय है।

मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ में लोगों के मध्य अटूट रिश्ता बनाने की मितान परम्परा को बनाए रखने का आव्हान करते हुए कहा कि सरकार और जनता के बीच में मितान की परम्परा को निभाते हुए हम सबको समृद्ध छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण के लिए योजनाबद्ध ढंग से काम करना होगा। उन्होंने लोगों को पुरखों की सीख नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी का स्मरण दिलाते हुए कहा कि सरकार नालों में संचित पानी के बेहतर उपयोग और जल स्तर बढ़ाने के लिए ठोस कदम उठाएगी।

उन्होंने कहा कि पशुओं के नस्ल सुधार और पशुधन विकास के लिए भी बेहतर पहल की जाएगी। खेतों में रासायनिक खादों के बदले जैविक खादों के उपयोग को बढ़ावा दिया जाएगा। किसानों को समृद्ध बनाने के लिए सब्जियों और उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि किसान समृद्ध होंगे तो समाज के सभी वर्ग खुशहाल होंगे। उन्होंने जन-घोषणा पत्र के अनुरुप सरकार के फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि सरकार ने किसानों के 61 सौ करोड़ से अधिक राशि के ऋण माफ कर किसानों के हित में पहला कदम बढ़ाया है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए प्रति क्विंटल 2500 रूपए की दर से धान खरीदी का सैद्धांतिक निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यवसायिक बैंकों से भी किसानों के फसल संबंधी ऋण भी माफ किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि उत्पादन के आधार पर फूड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित की जाएगी और किसानों के उत्पादों के लिए बाजार की व्यवस्था की पहल भी की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के पदाधिकारियों द्वारा की गई मांगों के संबंध में उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी मांगे प्राथमिकता के अनुसार पूरी की जाएंगी। अधिवेशन को मंत्री ताम्रध्वज साहू ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने प्रदेश के विकास में समाज के योगदान पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला।

अधिवेशन में छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज दुर्ग राज के राज प्रधान अरूण कुमार वर्मा, राजमंत्री लीलाधर प्रसाद मंढरिया, सचिव मोहन लाल वर्मा, कोषाध्यक्ष सुदर्शन लाल वर्मा, महिला अध्यक्ष अनिता वर्मा, पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय रायपुर के कुलपति केशरी लाल वर्मा, पूर्व संसदीय सचिव विजय बघेल, पूर्व महापौर नगर पालिक निगम रायपुर किरणमयी नायक, सरपंच ग्राम पंचायत गोढ़ी अजय वर्मा सहित समाज के अनेक पदाधिकारी, जिला एवं पुलिस प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

advt
Back to top button