संक्रमित बॉडी को जगह ना मिल पाने पर श्मशान घाट के बाहर छोड़ गए परिजन

सफाई कर्मचारियों और पंडा ने मिलकर शव का अंतिम संस्कार किया

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के लखनऊ में परिजन कोरोना संक्रमित बॉडी को जगह न मिल पाने पर श्मशान घाट के बाहर छोड़कर चले गए. जिसके बाद रात 12:00 बजे सफाई कर्मचारियों और पंडा ने मिलकर शव का अंतिम संस्कार किया.

जानकारी के मुताबिक लखनऊ के आलमबाग क्षेत्र में स्थित नहर शवदाह गृह पर कोविड पॉजीटिव बॉडी को जलाने के लिए काफी तादात में लोग पहुंच रहे है, जहाँ तकरीबन 60 बॉडी के आसपास रोज जलाई जा रही हैं.

लोगो को श्मशानघाट पर शव जलाने के लिए काफी इंतजार करना पड़ रहा है, ऐसे हालात में लोग अपने परिजनों की बॉडी को शमशान घर के बाहर रख कर वापस चले जा रहे हैं.

आलमबाग स्थित नहर शव दाह गृह में काम करने वाले नितिन पंडित जोकि यहां अंतिम संस्कार का काम करते हैं का कहना है कि देर शाम कुछ लोग गोरखपुर से कोरोना संक्रमण बॉडी का अंतिम संस्कार करने के लिए आये थे, उस समय यहां जगह मौजूद नही थी, इसलिए उनसे इंतजार करने के लिए कहा गया.

लेकिन शाम को देखा तो श्मशान घाट के गेट पर उनकी बॉडी रखी हुई थी और परिजन नही थे, काफी देर इंतजार किया गया, लेकिन कोई नही आया, इसके बाद देर रात तकरीबन 12 बजे सफाई कर्मचारी से मिलकर उस बॉडी का अंतिम संस्कार कर दिया गया.

पूर्व पार्षद आलमबाग भूपेन्द्र सिंह के मुताबिक, शवों के लिए प्रशासन की तरफ से कोई भी इंतजाम नहीं किए गए हैं, कोविड-19 के मृतकों को जलाने में काफी दिक्कत आ रही है, जगह नहीं मिल पा रही है.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button