Twitter के नए CEO पद की जिम्मेदारी अब पराग अग्रवाल के हाथ में, Jack Dorsey ने की इसकी घोषणा…

नई दिल्ली. Twitter के नए CEO पद की जिम्मेदारी अब पराग अग्रवाल के हाथ में होगी. CEO पद से इस्तीफा देने के बाद Jack Dorsey ने इसकी घोषणा कर दी. पराग अग्रवाल अभी कंपनी में बतौर CTO (chief technology officer) काम कर रहे थे.

पराग अग्रवाल ने IIT Bombay से पढ़ाई की है. रिपोर्ट के अनुसार ट्विटर बोर्ड ने भी इनके CEO बनने की मंजूरी दे दी है. AT&T, Yahoo और Microsoft में काम करने के बाद पराग ने ट्विटर को साल 2011 में ज्वाइन किया था.

जानकारी के अनुसार अग्रवाल ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई IIT Bombay से की. इसके बाद उन्होंने डॉक्टरेट Stanford University से किया. उनकी स्कूलिंग Atomic Energy Central School से हुई है.

पराग ने साल 2011 में ट्विटर ज्वाइन किया था. इससे पहले वो Microsoft, AT&T और Yahoo के साथ काम कर रहे थे. इन तीनों ही कंपनी में उनका काम रिसर्च-ओरिएंटेड था. उन्होंने ट्विटर में एड-रिलेटेड प्रोडक्ट्स पर काम करने से शुरुआत की थी. लेकिन, बाद में वो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर काम करने लगे.

साल 2018 में उन्हें कंपनी का CTO बनाया गया. ये माना जाता है कि उनकी इंजीनियर एक्सपर्टीज आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और एड नेटवर्क में है. ये दोनों की कंपनी के लिए काफी जरूरी है. रिपोर्ट के अनुसार उनके काम को Jack Dorsey भी काफी पसंद करते हैं. इस चीज ने भी उन्हें कंपनी के टॉप पोस्ट पर पहुंचने में मदद की.

Dorsey ने ही उन्हें साल 2011 में हायर किया था. वो उन्हें कितना पसंद करते हैं इस बारे में उन्होंने कर्मचारियों को भेजे गए मेल में भी लिखा है. CTO के तौर पर पराग ने मशीन लर्निग पर काफी काम किया. अब मात्र 10 साल की अवधि में वो इस कंपनी के CEO बन गए हैं.

अब वो जब लीडरशिप पॉजिशन पर है लेकिन फिलहाल उनकी पहचान उतनी नहीं है जितनी Sundar Pichai या Satya Nadella की CEO बनने के समय थी. पराग अग्रवाल ने भी ये पद मिलने के बाद Dorsey का काफी आभार जताया है.

उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा जब उन्होंने इस कंपनी को ज्वाइन किया था तब इसमें 1000 से कुछ कम कर्मचारी थे. इस दौरान काफी उतार-चढ़ाव और चुनौतियों का सामना करना पड़ा. हालांकि, वो इसके प्रभाव को लगातार देख रहे थे.

उन्होंने आगे लिखा है कि दुनिया हमें अभी देख रही है. इसको लेकर अलग-अलग लोगों के अलग-अलग व्यू और ओपिनियन होंगे. ऐसा इसलिए क्योंकि वो ट्विटर और इसके भविष्य की वो केयर करते हैं. ये सिग्नल है जो काम को यहां करते हैं वो मायने रखता है. दुनिया को ट्विटर की फुल पोटेंशियल दिखा दो.

जैसा पहले ही बताया जा चुका है पराग अग्रवाल कंपनी में बतौर CTO (चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर) काम कर रहे थे. अब वो कंपनी के CEO पद की जिम्मेदारी संभालेंगे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button