उत्तर प्रदेशराजनीति

हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज करने का नतीजा, अमित शाह अस्पताल में -दिग्विजय

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज करने का नतीजा है.

भोपाल : कोरोना वायरस  संकट के बीच अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन पर बवाल जारी है. कल ही उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत हो गई है. इसके साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना पॉजिटिव पाए गए. इस पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज करने का नतीजा है.

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करके कहा, ‘सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजर अंदाज करने का नतीजा- 1. राम मंदिर के समस्त पुजारी कोरोना पॉजिटिव, 2- उत्तर प्रदेश की मंत्री कमल रानी वरुण का कोरोना से स्वर्गवास, 3- उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष कोरोना पोजिटिव अस्पताल में. 4- अमित शाह कोरोना पॉजिटिव.’

कोरोना संक्रमितों की गिनती कराते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा

कोरोना संक्रमितों की गिनती कराते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा, ‘5- मध्यप्रदेश के भाजपा के मुख्यमंत्री व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष कोरोना पॉजिटिव अस्पताल में, 6- कर्नाटक के भाजपा के मुख्यमंत्री कोरोना पॉजिटिव अस्पताल में. मोदी जी आप अशुभ मुहूर्त में भगवान राम मंदिर का शिलान्यास कर और कितने लोगों को अस्पताल भिजवाना चाहते हैं?

दिग्विजय सिंह ने पूछा, ‘इन हालातों में क्या उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भारत के प्रधानमंत्री को क्वारनटीन नहीं होना चाहिए? क्या क्वारनटीन में जाने की बाध्यता केवल आम जनता के लिए है? प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री के लिए नहीं है? क्वारनटीन की समय सीमा 14 दिवस की है.’

दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘योगी जी आप ही मोदी जी को समझाइए. आपके रहते हुए सनातन धर्म की सारी मर्यादाओं को क्यों तोड़ा जा रहा है? और आपकी क्या मजबूरी है जो आप यह सब होने दे रहे हैं? मैं मोदी जी से फिर अनुरोध करता हूं कि 5 अगस्त के अशुभ मुहुर्त को टाल दीजिए.

पीएम नरेंद्र मोदी से अपील करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘सैकड़ों वर्षों के संघर्ष के बाद भगवान राम मंदिर निर्माण का योग आया है, अपनी हठधर्मीता से इसमें विघ्न पड़ने से रोकिए.’

राम मंदिर के भूमिपूजन पर सवाल उठाने के दौरान दिग्विजय सिंह ने अपने एक ट्वीट में अमित शाह को देश का प्रधानमंत्री बताया. इसके बाद दिग्विजय सिंह ट्रोल होने लगे. बाद में दिग्विजय सिंह ने एक और ट्वीट करके कहा, ‘त्रुटि के लिए क्षमा प्रार्थी हूं. अमित शाह गृहमंत्री हैं ना कि प्रधानमंत्री. क्षमा करें.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button