उत्तर प्रदेशराज्यराष्ट्रीय

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर घोषित इनाम को बढ़ाकर किया गया करीब 10 गुना

फरार चल रहे कुख्यात बदमाश विकास दुबे को पकड़ने की कोशिशें तेज

नई दिल्ली:उत्तर प्रदेश के कानपुर में शुटआउट मामले में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है. साथ ही उसे पकड़ने के लिए दिल्ली-एनसीआर में पुलिस हाई अलर्ट मोड पर है. साथ ही विकास पर घोषित इनाम को बढ़ाकर करीब 10 गुना कर दिया है. अब उस पर 2.50 लाख का इनाम है.

विकास के दिल्ली-एनसीआर में छुपे होने इनपुट मिलने के बाद नोएडा पुलिस हाई अलर्ट मोड में आ गई है. पुलिस अधिकारियों को आशंका है कहीं विकास दुबे फरीदाबाद से निकलकर ग्रेटर नोएडा में आकर आत्म समर्पण न करे, इसलिए सूरजपुर जिला कोर्ट में आने वाले लोगों का मास्क हटवाकर चेहरा देखा गया था.

मिली जानकारी के अनुसार, कोर्ट के बाहर पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई थी. सैक्टर 16ए स्थित फिल्म सिटी जो मीडिया का हब का जाता वहाँ पुलिस की जांच में जुटी है कि विकास दुबे कही चैनल के द्वारा सेरेंडर न कर दे. नोएडा-ग्रेटर नोएडा में पुलिस को सतर्क कर दिया गया है. गाड़ी में बैठे लोगों के चहरे से मास्क हटाकर उन्हें आगे जाने दिया जा रहा है.

मास्क हटवाकर चेकिंग कर रही है पुलिस

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर डिस्टिक कोर्ट पर तैनात पुलिस कोर्ट में आने वाले लोगों का मास्क हटवाकर चेहरा देखा. पुलिस नोएडा के फिल्म सिटी जो मीडिया का हब का जाता वहाँ भी नाकाबंदी कर जांच कर रही है.

डीएनडी पर पहले से ही वाहनो को जांच करने के बाद प्रवेश दिया जा रहा है. वही परी चौक पर भी सघन चेकिंग अभियान जारी है. सभी वाहनों को रोक कर गाड़ी में बैठे लोगों के चहरे से मास्क हटाकर उन्हें आगे जाने दिया जा रहा है.

पुलिस अधिकारियों को यह आशंका है कि एनकाउंटर से बचने के लिए विकास दिल्ली या ग्रेटर नोएडा स्थित सूरजपुर कोर्ट में सरेंडर कर सकता है. इसे देखते हुए पुलिस ने नोएडा कोर्ट और आसपास के सभी रास्तों पर सख्ती बढ़ा दी है. पुलिस कर्मी सड़क पर आने-जाने वाले हर वाहन की गहनता से जांच करने के साथ ही कोर्ट के अंदर आने वाले हर व्यक्ति की पड़ताल कर रहे हैं.

कई राज्यों की पुलिस कर रही है छापेमारी

विकास की धरपकड़ के लिए स्थानीय पुलिस तो अलर्ट पर है ही, एसटीएफ की टीमें भी दिल्ली-एनसीआर में चक्कर काट रही हैं. पुलिस उससे जुड़े हर इनपुट को गंभीरता से ले रही है. पुलिस को विकास से जुड़ी हर छोटी से छोटी जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों तक पहुंचाने के लिए भी कहा गया है. पुलिस उसकी तलाश में दिल्ली, यूपी, गुरुग्राम और फरीदाबाद और राजस्थान सहित तमाम जगहों पर छापेमारी कर रही है.

फरीदाबाद के सेक्टर 87 में दिखाई दिया था विकास

पहले विकास दुबे को हरियाणा में फरीदाबाद के सेक्टर 87 में दिखाई देने की सूचना पुलिस को मिली थी. सूत्रों का दावा है कि मंगलवार देर रात विकास एक होटल की सीसीटीवी फुटेज में भी देखा गया, लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले ही वह वहां से फरार हो गया.

विकास दुबे के सहयोगी को हुआ कोरोना

इस बीच, विकास के मुख्य सहयोगी कार्तिकेय और अन्य आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा. कार्तिकेय उर्फ प्रभात के पास से 4 पिस्टल और 44 कारतूस बरामद किए गए हैं. मुठभेड़ के सिलसिले में फरीदाबाद में गिरफ्तार किए गए विकास दुबे के तीन सहयोगियों में से एक श्रवण के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

दरअसल सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार, किसी भी आरोपी को गिरफ्तारी के बाद अदालत में पेश करने से पहले उसकी कोविड-19 जांच करायी जाती है.

श्रवण के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद जेल प्रशासन को इसकी सूचना दे दी गई है और वहां इस संबंध में सरकार के निर्देशों का पूरा-पूरा पालन किया जा रहा है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button