राष्ट्रीय

भारतीय सेना में कैप्‍टन रहे 80 साल के वृद्ध का सड़ा-गला शव घर से हुआ बरामद

प्राथमिक जांच में बुजुर्ग की मौत ठंड लगने की वजह से हुई लग रही

यमुनानगर:हरियाणा के यमुनागर में 80 साल के वृद्ध भारतीय सेना में पूर्व कैप्‍टन का सड़ा-गला शव घर से बरामद होने के बाद पड़ोसियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. उनका विक्षिप्‍त बेटा घर पर अकेला था. घर से बदबू आ रही थी.

पास-पड़ोस के लोगों की मानें तो घर में दो ही लोग रह रहे थे और इनमें से एक यानि रिटायर्ड कैप्टन का बेटा मानसिक विक्षिप्त है. उसे यह भी पता नहीं कि उसके पिता की मौत हो चुकी है. पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाकर आगे की जांच शुरू कर दी है. प्राथमिक जांच में बुजुर्ग की मौत ठंड लगने की वजह से हुई लग रही है.

यह घटना शहर के सेक्टर-17 की है. यहां भारतीय सेना से ऑनरेरी कैप्‍टन रैंक से रिटायर्ड 80 साल के राम सिंह और उनका एक बेटा प्रवीण कुमार रह रहे थे. पत्नी की कुछ बरस पहले मौत हो चुकी है. उनकी एक बेटी भी थी, जिनका निधन हो चुका है.

परिवार में इन दोनों के अलावा किसी और के बारे में कोई कुछ नहीं जानता. गुरुवार को मृतक का बेटा प्रवीण ने छत पर कुछ कपड़े एकत्र किए और उनमें आग लगा रहा था. पड़ोस में ही छत से किसी महिला ने उसे देखा. तब पुलिस को सूचना दी.

प्रवीण की मानसिक हालत ठीक नहीं है. ऐसे में वह पहले भी कई बार इस तरह की हरकत कर चुका है. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर प्रवीण को रोका और उससे कपड़े लिए. इसी दौरान कमरे से बदबू उठ रही थी. जब पुलिस ने देखा तो रजाई के नीचे वृद्ध का शव पड़ा था.

मृतक का विक्षिप्त बेटा प्रवीण बोला कि पापा अभी सो रहे हैं और खाना खाने के लिए उठेंगे. उसकी यह बात सुनकर हर कोई भावुक हो गया. बाद में पुलिस टीम ने तुरंत शव को कब्जे में लिया और पड़ोसियों से पूछताछ की. पड़ोसियों का कहना है कि कैप्टन के परिवार की किसी के साथ बोलचाल नहीं थी, जिसके चलते उनके बारे में कोई कुछ नहीं जानता.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button