अंतर्राष्ट्रीय

अमेरिकी डालर के मुकाबले रुपया सात पैसे मजबूत होकर 75.58 पर बंद

इस दौरान देश के शेयर बाजारों में गिरावट रही।

मुंबई:

वैश्विक बाजार में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर पड़ने और कच्चे तेल के दाम नीचे आने से सोमवार को डालर के मुकाबले रुपया सात पैसे बढ़कर 75.58 रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ। हालांकि, इस दौरान देश के शेयर बाजारों में गिरावट रही।

विदेशी मुद्रा डीलरों का कहना है कि घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट, विदेशी मुद्रा की निकासी और कोविड-19 के मामलों से बढ़ती चिंता के बीच अमरिकी डालर के कमजोर पड़ने से भारतीय मुद्रा को समर्थन मिला और इसमें गिरावट थम गई।

कारोबार के दौरान रुपये में मजबूती आई-

अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में कारोबार की शुरुआत में रुपया 75.64 प्रति डालर पर स्थिर खुला। कारोबार के दौरान रुपये में मजबूती आई और यह प्रति डालर 75.58 के भाव पर बंद हुआ। पिछले बंद भाव के मुकाबले रुपये में सात पैसे की वृद्धि रही। गत सप्ताहांत शुक्रवार को डालर के मुकाबले रुपया 75.65 रुपये पर बंद हुआ था।

सोमवार को चार घंटे के कारोबारी सत्र के दौरान स्थानीय मुद्रा की विनिमय दर ऊंचे में 75.52 और नीचे में 75.64 रुपये प्रति डालर रही। शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध विक्रेता थे और उन्होंने शुक्रवार को 753.18 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

सभी प्रमुख एशियाई मुद्राओं में गिरावट देखने को मिली-

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के खुदरा शोध के उप प्रमुख देवर्ष वकील ने कहा कि नए सप्ताह की शुरुआत में बाजार की भावनाएं जोखिम की आशंका से प्रभावित हुईं और सभी प्रमुख एशियाई मु्द्राओं में गिरावट देखने को मिली। उन्होंने कहा कि अमेरिका और दक्षिण एशियाई देशों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के कारण ऐसा हुआ।

इस बीच दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले एक करोड की संख्या को पार करते हुये 1.01 करोड़ तक पहुंच गये हैं जबकि इससे मरने वालों का आंकड़ा 5.01 लाख हो गया है।

वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या पांच लाख 48 हजार 318 तक पहुंच गई है जबकि 16,475 लोगों की इससे मौत हो गई। उधर, वैश्विक बाजार में ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा भाव 2.15 प्रतिशत गिरकर 40.14 डालर प्रति बैरल रह गया।

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: