राजनीतिक दलों की उपस्थिति में ईव्हीएम का हुआ द्वितीय रेण्डमाईजेशन

निष्पक्ष व शांतिपूर्ण निर्वाच.न के साथ सुरक्षा, व्यय व अन्य विषयों पर चर्चा

मनोज मिश्रा

महासमुंद। लोकसभा निर्वाचन 2019 के अंतर्गत कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में राजनैतिक दलों की उपस्थिति में ईव्हीएम का द्वितीय रेण्डमाईजेशन किया गया। आज यहां कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सुनील कुमार जैन, महासमुंद संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक डॉ. पवन कोटवाल, व्यय प्रेक्षक तरूण कुमार कन्नौजिया, धमतरी कलेक्टर एवं सहायक रिर्टनिंग आफिसर रजत बंसल, गरियाबंद कलेक्टर एवं सहायक रिर्टनिंग आफिसर श्री श्याम धावड़े, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज रघुवंशी सहित अन्य अधिकारियों एवं राजनैतिक दलों की उपस्थिति में जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी आनंद सोनी द्वारा द्वितीय रेण्डमाईजेशन की प्रक्रिया संपादित की गई।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदाय साफ्टवेयर के माध्यम से ईव्हीएम मशीनों का रेण्डमाईजेशन किया गया। इस प्रक्रिया में साफ्टवेयर के जरिए ईव्हीएम को रेण्डमली संसदीय निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक-9 महासमुंद के आठों विधानसभाओं में प्रत्येक विधानसभावार अलग किया गया है।

अब इसी क्रम में ईव्हीएम को भौतिक रूप से विधानसभावार जमाए जाने की प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी। रेण्डमाईजेशन के दौरान सरायपाली विधानसभा के 268 केन्द्रों के लिए, बसना विधानसभा के 286, खल्लारी विधानसभा के 273, महासमुंद विधानसभा के 246 मतदान केन्द्रों के लिए बैलेट युनिट एवं कन्ट्रोल युनिट 10-10 प्रतिशत एवं वीवीपेट 15 प्रतिशत रिर्जव के रूप में रखा गया है। राजिम विधानसभा के 274, बिन्द्रनवागढ विधानसभा के़ 299, कुरूद विधानसभा के 237 एवं धमतरी विधानसभा के 257 केन्द्रों के लिए बैलेट युनिट, कन्ट्रोल यूनिट एवं वीवीपेट 10-10 प्रतिशत रिर्जव किया गया है।

बैठक में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जैन ने कहा कि आदर्श आचार-संहिता पालन सुनिश्चित करें। बैठक में व्यय प्रेक्षक ने कहा कि अभ्यर्थी द्वारा व्यय लेखा का नियमित रूप से रख- रखाव होना जरूरी है। उन्होंने यह भी कहा कि अभ्यर्थी निर्धारित तिथियों को अपना समय-समय पर किए गए व्यय का ब्यौरा प्रस्तुत करेंगे।

पावर पाईट प्रजेन्टेशन के माध्यम से निर्वाचन संबंधी सभी पहलुओं की विस्तार से अवगत कराया गया। बैठक में आदर्श आचार संहिता, व्यय लेखा, प्रचार-प्रसार आदि विषयों पर चर्चा की गई, जिसमें प्रत्याशियों एवं राजनीतिक दलों द्वारा भी प्रचार संबंधी बातों पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। बैठक के दौरान प्रत्याशी एवं राजनैतिक दलों के पदाधिकारी ने निर्वाचन एवं आचार संहिता सहित व्यय लेखा, प्रचार-प्रसार के संबंध में प्रश्न किए, उन प्रश्नों का समाधान किया गया।

इसके अलावा बैठक में लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत् किसी भी राजनीतिक दल के व्यक्तियों द्वारा सोशल मीडिया, प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया में विज्ञापन प्रसारित करने से पूर्व जिले में गठित मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति (एमसीएमसी) का प्रमाणन अनिवार्य है। इसी तरह से प्रिंट मीडिया में भी विज्ञापन प्रकाशन मतदान समाप्ति के 48 घंटे पूर्व के विज्ञापन प्रकाशन हेतु भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुसार निर्धारित समयावधि में मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति का प्रमाणन अनिवार्य है।

6 मतदान केन्द्रों का मतदान समय प्रातः 7 बजे से अपरान्ह 03 बजे तक निर्धारित
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी जैन ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी अधिसूचना के तहत संसदीय निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 09 महासमुंद लोकसभा अंतर्गत जिले के बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-55 के मतदान केन्द्र संख्या-75 कामरभौदी, 77-आमामोरा, 78-ओढ़, 90-बड़ेगोबरा, 121-सहबीनकछार एवं मतदान केन्द्र संख्या 122 कोदोमाली के मतदान समय को परिवर्तित किया गया है।

जिसके तहत मतदान दिवस 18 अप्रैल को उक्त 6 मतदान केन्द्रों में मतदान का समय प्रातः 07.00 बजे से अपरान्ह 03.00 बजे तक सम्पन्न होगा। जबकि सभी शेष मतदान केन्द्रों का मतदान नियत समय प्रातः 07 बजे से अपरान्ह 05 बजे तक सम्पन्न होगा।

सुविधा एप के बारे में दी गई जानकारी

बैठक में जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी श्री आनंद सोनी ने राजनितिक दलों के पदाधिकारी एवं प्रतिनिधियों को पावर प्रजेन्टेशन के माध्यम से सुविधाएप के संबंध में जानकारी दी गई। उन्होंनें बताया कि लोकसभा निर्वाचन 2019 को निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से संपन्न कराने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी का बेहतर इस्तेमाल किया जा रहा है।

इसी क्रम में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा ऑन लाईन अनुमति के लिए सुविधा एप तैयार किया गया है। इस एप का उपयोग अभ्यर्थी, पार्टी पदाधिकारी, अभ्यर्थी के प्रतिनिधि, निर्वाचन अभिकर्ता मोबाईल नंबर के माध्यम से ओटीपी आने पर लॉग-इन कर सकते है। इस एप में समय सीमा का विशेष महत्व है।

इस एप के माध्यम से फस्ट इन-फस्ट आउट के आधार पर होगी। यदि ऑफलाईन आवेदन प्राप्त होंगे तो उन्हें ऑन लाईन आवेदनों के बाद निराकरण, अनुमति दिया जाएगा। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री मो. शरीफ खान, श्री आलोक पाण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री देवव्रत सिरमौर, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बी.एस. मरकाम, एसडीएम महासमुंद श्री सुनील कुमार चंद्रवंशी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button