साल का दूसरा सूर्यग्रहण कल, जानिए क्या करें

रायपुर।

साल 2018 का दूसरा सूर्यग्रहण शुक्रवार 13 जुलाई को पड़ रहा है। लेकिन भारत में यह ग्रहण आंशिक रहेगा जिसकी वजह से इसका बहुत ज्यादा असर देखने को नहीं मिलेगा।

इस बार यह ग्रहण 13 तारीख की अशुभ तारीख को पड़ रहा है, दुनियाभर के तमाम लोग इस तारीख को अशुभ मानते हैं। ऐसा संयोग 40 साल के बाद दोबारा बना है। इसके पहले 13 दिसंबर 1974 को सूर्यग्रहण पड़ा था।

भारतीय समयानुसार ग्रहण 7 बजकर 18 मिनट से शुरू होगा और 8 बजकर 13 मिनट तक रहेगा। इस प्रकार लगभग एक घंटे का सूर्यग्रहण होगा। इस सूर्यग्रहण का बुरा असर कर्क, मिथुन और सिंह राशि पर पड़ सकता है।

जबकि अगर शुभ प्रभाव की बात करें तो मेष, मकर, तुला और कुंभ राशि पर पड़ेगा। शास्त्रों में सूतक काल के दौरान कोई भी शुभ कार्य करने को मना किया गया है। सूतक काल में पूजा पाठ और भगवान की मूर्तियों को स्पर्श करना वर्जित है।

ग्रहण पर क्या करें, क्या ना करें

ग्रहण के दौरान इसके असर से बचने के लिए ग्रहण काल में भगवान शिव के मंत्रों और नामों का जप करना चाहिए।
-गरीबों को दान और तुलसी का पत्ता खाना चाहिए लेकिन तुलसी के पत्तें को ग्रहण के एक दिन पहले से तोड़कर रख लेना चाहिए।

ग्रहण के दौरान खाने-पीने की चीजों में तुलसी के पत्ते डाल कर रखना चाहिए। तुलसी के पत्ते से खाने की चीजों पर ग्रहण का असर नहीं होता है।

ग्रहण में गर्भवती महिला को खास ध्यान रखना चाहिए। ग्रहण में महिलाओं को बाहर नहीं निकालना चाहिए क्योंकि बच्चे पर इसका बुरा असर पड़ सकता है।

ग्रहण में मंत्रों का जाप और ग्रहण के बाद पूरे घर में गंगाजल से छिड़काव करना चाहिए।

Back to top button