नक्सलियों ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को दी धमकी

-डर कर उसने तुरंत सौंप दिया अपना इस्तीफा

कवर्धा।

जिले मे नक्सली खौफ बढ़ रहा है, हालांकि उनके द्वारा कहीं किसी प्रकार की वारदात नहीं की गई है जिससे जानमाल को नुकसान पहुंचा हो, लेकिन लोगों मे दहशत व्याप्त है। प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला बाल विकास विभाग में कार्यरत एक कार्यकर्ता ने अपनी जान का खतरा होने का हवाला देकर अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

ज्ञात हो कि विगत माह धुआं-छापर के जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी जिसमें एक नक्सली को पुलिस ने मार गिराया था. जिले के वनांचलों मौजूद नक्सली अब गांवों मे भी आना-जाना कर रहे है और अपना फरमान ग्रामीणों तक पहुंचा रहे हैं।

पता चला है कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का पति पुलिस मे आरक्षक पद पर कार्यरत है. बोड़ला विकासखंड, तरेगांव सेक्टर अंर्तगत ग्राम पंचायत आमानारा के झुरकीदादर आंगनबाडी केंद्र की कार्यकर्ता ने कार्यालय जिला परियोजना अधिकारी को एक पत्र लिखा है कि-मेरी जान को खतरा है जिसके कारण मै अपने पद से इस्तीफा दे रही हूं.

आगे लिखा है कि चूंकि मेरे पति धुंआ-छापर में नक्सलियों के बीच हुए मुठभेड़ मे शामिल थे जिसकी जानकारी नक्सली को भी है पत्र के अनुसार नक्सली और ग्रामवासी के बीच संपर्क है. उनके द्वारा ग्रामीणों को कहा गया है कि आंगनबाड़ी केंद्र खुलता है तो सूचित करें.

इस संबंध मे जिला पुलिस अधीक्षक ने कहा कि उनके पति पुलिस में है इसलिए डरी हुई हैं. आवेदक से मुलाकात कर सारी जानकारी ली जायेगी. जिला कलेक्टर कबीरधाम ने बताया मामले की जानकारी अभी नहीं है. पुलिस विभाग से बात कर संबंधित को सुरक्षा दी जाएगी.

उनकी सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है. जिले के हर नागरिको को सुरक्ष देने का काम है और उस महिला को भी हम सुरक्षा मुहईया कराएंगे.
-कलेक्टर अवनीश कुमार शरण

पुलिस परिवार से वह महिला जुड़ी हुई है. इस कारण से वह महिला अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रही है नक्सली वाला कोई विषय नहीं है.
डॉ लाल उमेंद सिंह (पुलिस अधीक्षक कबीरधाम)

महिला बाल विकास अधिकारी एल आर कच्छप ने बताया कि महिला द्वारा इस्तीफा सौंपा गया है. महिला डरी सहमी हुई है. उसने कहा कि उसे नक्सलियों ने धमकी भरा पत्र आया है. जिससे वो नौकरी नहीं करना चाहती है. लेकिन हमारे द्वारा महिला को समझाईश दी गई है कि ऐसा कुछ नहीं होगा आप निश्ंिचत रहिए. साथ ही उसका इस्तीफा भी स्वीकार नहीं किया गया है।

Back to top button