प्रदेश सरकार बंदी जवान की रिहाई के प्रयासों में तेज़ी लाकर बटालियन का मनोबल बढ़ाए और परिजनों को राहत दे : भाजपा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने गहरा अफ़सोस जताया कि सरकार की तरफ से नक्सलियों के पास बंदी जवान मनहास की रिहाई को लेकर अब तक कोई भी आधिकारिक बयान नहीं आया

0 आक्रामक नक्सलरोधी कार्ययोजना अमल में लाने का केंद्र सरकार का संकेत स्वागतेय : साय

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने बीजापुर-सुकमा के सीमावर्ती इलाक़े तर्रेम में नक्सली हिंसा के दौरान सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन के लापता जवान राकेश्वर सिंह मनहास के नक्सलियों के पास बंदी होने पर चिंता व्यक्त है। साय ने इस बात पर भी गहरा अफ़सोस जताया है कि सरकार की तरफ से नक्सलियों के पास बंदी जवान मनहास के बारे में कोई भी आधिकारिक बयान नहीं आया है। श्री साय ने कहा कि प्रदेश सरकार को बंदी जवान की यथाशीघ्र सुरक्षित रिहाई के हरसंभव उपायों पर तेज़ी से काम करना चाहिए ताकि बटालियन का मनोबल बढ़े और बंदी जवान के परिजनों को राहत मिले।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री साय ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नक्सली मोर्चे पर कमज़ोर नीतियों का ही यह दुष्परिणाम है कि नक्सलियों ने प्रदेश में अपने ख़ूनी तांडव से दहशत क़ायम करने पर उतारू हो चले हैं और अब एक जवान को बंदी बनाकर सरकार के सामने मध्यस्थ नियुक्त करने के बाद जवान की रिहाई की शर्त रख रहे हैं। श्री साय ने ताज़ा नक्सली हिंसा के मद्देनज़र आक्रामक नक्सलरोधी कार्ययोजना को अमल में लाने के केंद्र सरकार के संकेत का स्वागत किया है। श्री साय ने कहा कि नक्सली आतंक के ख़िलाफ़ निर्णायक लड़ाई की ज़रूरत पर बल देकर इसे अंजाम तक पहुँचाने की केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की वचनबद्धता लाल आतंक के ख़िलाफ़ जारी लड़ाई में शहीद हुए जवानों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी और इससे घायल जवानों का मनोबल बढ़ेगा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button