हैकिंग को रोकने सरकार उठा रही कदम,अब नहीं रहेगा डर

टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी को और सख्त बनाने पर भी विचार

नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय के निर्देश पर सभी बैंकिंग एप और सेवाओं को केंद्रीकृत ऑनसाइट साइबर सिक्योरिटी सेल से जोड़ा जा रहा है जिससे हैकिंग का डर नहीं रहेगा।

बैंकों ने साइबर रिस्क मैनेजमेंट को मजबूत करने की दिशा में कदम बढ़ाए हैं। इसके तहत बैंकिंग सेवाओं से जुड़े सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन बैंक के मुख्यालय में बने तकनीकी विभाग से जोड़े जाएंगे।

साथ ही बैंक लेनदेन के लिए वन टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी को और सख्त बनाने पर भी विचार कर रहे हैं।

बैंक ऑफ बड़ौदा के स्वतंत्र निदेशक गोपाल अग्रवाल के अनुसार, सभी शाखाओं को केंद्रीय सिस्टम से जोड़ा है। कोई बड़ा या अनियमित लेनदेन होने पर मैनेजर के पास अलर्ट जाएगा। इससे संदिग्ध गतिविधि पर निगाह रहेगी।

ये सावधानियां जरूरी

इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड, खाता नंबर और एटीएम पिन मोबाइल में न रखें।

-मोबाइल, गाड़ी का नंबर या जन्म तिथि को पासवर्ड न बनाएं।

-फोन पर बैंक से जुड़ी जानकारी न दें।

Tags
Back to top button