अंतर्राष्ट्रीय

खून में संक्रमण फैलने के चलते थाईलैंड के इस नौसैनिक का निधन

युवा फुटबाल खिलाडिय़ों की टीम को बचाया था

बैंकाक: पिछले साल गुफा से 12 युवा खिलाडिय़ों और उनके कोच को बाहर निकालने के दौरान ही खून में संक्रमण के चलते बीमार पड़ गए थाई नौसैनिक का निधन हो गया है।

बता दें बचाव अभियान के दौरान ही नेवी सील का खून संक्रमित हो गया था और एक साल से उनका इलाज चल रहा था।थाइलैंड की नौसेना ने शुक्रवार को अपने फेसबुक पर जारी बयान में कहा है कि पेटी अफसर बेरुत पकबारा पिछले साल गुफा से 12 युवा खिलाडिय़ों और उनके कोच को बाहर निकालने के दौरान ही खून में संक्रमण के चलते बीमार पड़ गए थे।

पिछले एक साल से डॉक्टरों की सघन निगरानी में उनका इलाज चल रहा था, लेकिन उनकी तबीयत बिगड़ती गई और शुक्रवार को उनका निधन हो गया। नौसेना ने उनके निधन पर गहरा दुख जताते हुए उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

बता दें कि पिछले साल जून में वाइल्ड बोअर्स टीम के खिलाड़ी और कोच बारिश से बचने के लिए उत्तरी थाइलैंड में थाम लुआंग गुफा में छिपे थे। लेकिन तेज बारिश के बाद पहाड़ी गुफा में पानी भर गया था।

खिलाडिय़ों के गुफा में फंसे होने की जानकारी मिली तो थाइलैंड समेत पूरी दुनिया में हाहाकर मच गया। खिलाडिय़ों को सुरक्षित निकालने के लिए देश विदेश से बचाव दल के सदस्य और गोताखोर पहुंचे थे। 18 दिनों तक चले अभियान में सभी 12 खिलाडिय़ों और उनके कोच को सही सलामत गुफा से निकाल लिया गया था। बाद में इस घटना पर फिल्म भी बनी थी।

Tags
Back to top button