एक या दो खिलाडि़यों के दम पर खिताब नहीं जीता जाता : वीवीएस लक्ष्मण

IPL 2019 अक्सर कम स्कोर के मैचों में पिच पर स्ट्रोक खेलना आसान नहीं होता है और यह मैच को कुछ रोमांचक और प्रतिस्पर्धी बनाता है। हमारे पिछले दो मैच मुश्किल पिचों पर रहे। सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ जीत हासिल की, लेकिन शनिवार को उप्पल में अपने घरेलू मैदान पर मुंबई इंडियंस के खिलाफ जीत हासिल नहीं कर सकी।

अक्सर कम स्कोर के मैचों में पिच पर स्ट्रोक खेलना आसान नहीं होता है और यह मैच को कुछ रोमांचक और प्रतिस्पर्धी बनाता है। यदि आप पहले गेंदबाजी कर रहे हैं, तो आपको पूरे मैच पर, खास तौर से अंतिम ओवरों में ध्यान केंद्रित रखना अहम होता है, क्योंकि एक या दो महंगे ओवर भी बहुत बड़ा बदलाव ला सकते हैं। ऐसे हालात में कीरोन पोलार्ड की पारी शनिवार की रात बेहद महत्वपूर्ण थी और एक टीम के रूप में हमें इससे कुछ सीखना चाहिए।

जब आप एक धीमी पिच पर लक्ष्य का पीछा करते हैं तो यह आवश्यक है कि आप कुछ साझेदारियां बनाएं और टीम की कोशिश पर ध्यान दें। एक या दो खिलाडि़यों के व्यक्तिगत प्रयासों के दम पर खिताब नहीं जीता जाता है।

दिल्ली और मुंबई, दोनों के खिलाफ मध्य क्रम के पास अपनी साख को वापस पाने का मौका था। हालांकि यह सच है कि उन्होंने शनिवार को आसानी से हथियार नहीं डाले। हमें उनकी क्षमताओं पर पूरा विश्वास है। क्योंकि डेविड वार्नर और जॉनी बेयरस्टो ने पहले तीन मैचों में इतनी अच्छी और इतनी गहरी बल्लेबाजी की, जिससे मध्य क्रम को खेलने का पर्याप्त समय नहीं मिला। लेकिन, हम अभ्यास के दौरान सुनिश्चित करते हैं कि बल्लेबाज सभी तरह की परिस्थितियों के लिए तैयार रहें। अब तक कौशल और तैयारी का संबंध है, तो कोई समझौता नहीं हुआ है और मुझे विश्वास है कि मामूली समस्याएं जल्द ही दूर कर ली जाएंगी।

हम एक ऐसी टीम हैं जो अपने क्षेत्ररक्षण पर गर्व करती है और हम टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ क्षेत्ररक्षण टीम बनना चाहते हैं। शनिवार को हमारी पूरी कोशिश नहीं थी, लेकिन आइपीएल की सुंदरता यह है कि वापसी का समय बहुत कम है। हम सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेलेंगे और यह सुनिश्चित करना हमारी जिम्मेदारी है कि खिलाड़ी एक अच्छी मानसिक स्थिति में हों। जब हम अपने पिछले मैचों से और विशेष रूप से नुकसान से सीख लेंगे, तो हम नहीं चाहेंगे कि खिलाड़ी कोई नकारात्मकता ले जाएं। एक नई शुरुआत महत्वपूर्ण है, क्योंकि जो कुछ हुआ है उस पर झुंझलाहट किसी भी तरह से मदद करने वाली नहीं है।

Back to top button