बढ़ती डीजल की कीमतों को लेकर ट्रांसपोर्टरों की अनिश्चितकालीन हड़ताल आज से

रायपुर।

छत्तीसगढ़ समेत देशभर में आॅल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के सदस्य अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने वाले हैं। इस हड़ताल को छत्तीसगढ़ के सभी परिवहन संघों ने समर्थन दिया है। हड़ताल के चलते आज सुबह से ही प्रदेशभर के 90 हजार भारी वाहनों के चक्के थम गए हैं।

आपको बता दें कि डीजल की बढ़ती कीमतें, टोल नाकों पर वसूली, ई-वे बिल समेत 6 मांगों को लेकर देशभर के टांसपोट कांग्रेस ने औ? परिवहन यूनियनों ने देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है। छत्तीसगढ़ के सभी परिवहन संघों ने कुछ दिन पहले एक होटल में बैठक बुलाकर इस हड़ताल को समर्थन देने की घोषणा की थी।

-ये है मांगे

डीजल की कीमतें कम होने के साथ ही जीएसटी के दायरे में लाया जाए। राष्ट्रीय स्तर पर सामान मूल्य निर्धारण और डीजल कीमतों में त्रैमासिक संशोधन हो टोल बैरियर मुक्त भारत। तृतीय पक्ष बीमा प्रीमियम (टीपीपी) निर्धारण में पारदर्शिता, इस पर जीएसटी की छूट और कोम्प्रेहेंसिव पॉलिसी के माध्यम से एजेंटों को भुगतान किए जा रहे अतिरिक्त कमीशन को समाप्त करना।

ट्रांसपोर्ट व्यवसाय पर टीडीएस समाप्त किया जाए। आयकर अधिनियम की धारा 44 एई में अनुमानित आय में कमी और ई-वे बिल जुड़ी समस्याओं को हल किया जाए। बसों और पर्यटन वाहनों के लिए नेशनल परमिट। डायरेक्ट पोर्ट डिलीवरी (डीपीडी) योजना समाप्त हो, पोर्ट कंजेशन भी समाप्त होना चाहिए।

Back to top button