राष्ट्रीय

चिलाई कलां में घाटी के तापमान में काफी गिरावट, जमी झील

चिलाई कलां में बहुत कम आती है बिजली

श्रीनगर: चिलाई कलां में घाटी के तापमान में काफी गिरावट आई है. बारिश और हिमपात की संभावना अधिक रहती है. इस मौसम में लोगों को काफी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ता है.

झील में रहने वालों का जीवन मानों थम गया है. डल झील में जो सफर मिनटों का होता है वह घंटों में पूरा होता है झील पर जमी परत को तोड़ने में बहुत वक्‍त लगता है.

लोग खून जमा देने वाली ठंड से बचने के लिए कपड़ों की अतिरिक्त मात्रा में पहनते है. छात्रों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. सुहैल अहमद कहते हैं- चिलाई कलां में बहुत मुश्किल होती है. डल लेक जम गया है. बिजली भी बहुत कम आती है. ऐसे में नल जम जाते हैं.

चिलाई कलां जनवरी के अंत में समाप्त होता है, लेकिन यह ठंड का अंत नहीं है. चिलाई कलां के बाद 20 दिन का ‘चिला खुर्द’ (कम ठंड) और 10 दिन का ‘चिला बचा’ (बचा ठंडा) का मौसम रहता है.

Tags
Back to top button