बच्चों की देखभाल के लिए छत्तीसगढ़ में हो रहे कार्य सराहनीय: अजय तिर्की

रायपुर : महिला एवं बाल विकास विभाग भारत सरकार के अतिरिक्त सचिव अजय तिर्की छत्तीसगढ़ प्रवास पर हैं। तिर्की 21 व 22 सितम्बर को ‘बच्चों के अधिकार पर’ आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला में सम्मिलित होेने आये हैं। अपने प्रवास के प्रथम दिवस में तिर्की ने आदर्श आंगनबाड़ी केन्द्र टेमरी, सम्मानपुर (नकटी) बालिका गृह माना तथा रायपुर स्थित सखी वन स्टॉप सेंटर का निरीक्षण किया। तिर्की ने इस अवसर पर कहा कि बच्चों की देखभाल व सुरक्षा के लिए छत्तीसगढ़ में किये जा रहे कार्य सराहनीय है। इन कार्यों को और ऊंचाई पर ले जाने हेतु अधिकारों से मिलकर विमर्श करने तिर्की ने कहा कि छत्तीसगढ़ के आंगनबाड़ी केन्द्रों में बदलाव आए हैं। मैंने जिन केन्द्रों को देखा वे आदर्श केन्द्र है तथा उन्हांेने उम्मीद की कि प्रदेश के शत-प्रतिशत आंगनबाड़ी केन्द्र आदर्श आंगनबाड़ी केन्द्र हो। तिर्की ने बालिका गृह तथा सखी वन स्टॉप सेंटर के अधीक्षिका की तारीफ करते हुए कहा कि राज्य के अन्य सेंटरों में भ्ज्ञी इसी तरह कार्य हो तब वह दिन दूर नहीं कि छत्तीसगढ़ देश का अग्रणी राज्य होगा। तिर्की ने कहा कि जिस प्रकार से ब्लू व्हेल जैसे गेम के माध्यम से बच्चों को दिग्भ्रमित कया जा रहा है इस पर सभी राज्यों से चर्चा कर एक सार्थक रणनीति बनाया जाना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि बच्चों की देखभाल और सुरक्षा पर जो राज्य बेहतर कार्य करेगा उसे जल्द ही भारत सरकार द्वारा पुरस्कृत भी किया जायेगा। तिर्की ने राज्य शासन व महिला बाल विकास विभाग की तारीफ करते हुए कहा कि यहां के कार्यों से अन्य राज्य प्रेरणा ले सकते हैं। इस अवसर पर विभाग की सचिव एम गीता सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

advt
Back to top button