आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य में आई तेजी,जिले में अब तक 03 लाख 02 हजार 547 परिवारों का किया गया पंजीयन

डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना

उत्तर बस्तर कांकेर 18 मार्च 2021 : प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना तथा डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के अंतर्गत जिले में 01 मार्च से आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य प्रारंभ किया गया है, जिसके फलस्वरूप अब तक 03 लाख 02 हजार 547 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाने हेतु पंजीयन किया जा चुका है, आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य में कांकेर जिला राज्य में दूसरे स्थान पर है। आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य का कलेक्टर चन्दन कुमार द्वारा निरंतर समीक्षा की जा रही है तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अलावा राजस्व अधिकारियों को भी लगातार निर्देश दिये जा रहे हैं।

बीपीएल परिवार

उल्लेखनीय है कि बीपीएल परिवारों (सामाजिक, आर्थिक एवं जातीय जनगणना (एसईसीसी) वर्ष 2011 के अंतर्गत आने वाले परिवारों) तथा अंत्योदय एवं प्राथमिकता वाले राशन कार्डधारी परिवारों का च्वाईस सेंटर (सीएससी) में निःशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है। इसी प्रकार स्वास्थ्य केन्द्रों में एपीएल परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए पंजीयन किये जा रहे हैं।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अब तक जिले के अंतागढ़ विकासखण्ड में 15487, भानुप्रतापपुर में 32505, चारामा में 46371, दुर्गूकोंदल में 20951, कांकेर में 45142, कोयलीबेड़ा में 71268, नरहरपुर में 41053 और शहरी क्षेत्रों में 29770 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाने हेतु पंजीयन किया जा चुका है।

शासन द्वारा दिये गये निर्देशानुसार परिवार के प्रत्येक सदस्य का पृथक-पृथक आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है। इसके लिए सभी विकासखण्डों में रूटचार्ट बनाये गये है तथा विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, तहसीलदार व संबंधित क्षेत्र के एसडीएम के मार्गदर्शन में सीएससी द्वारा आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य किया जा रहा है।

गरीबी रेखा की सूची

यदि किसी परिवार का गरीबी रेखा की सूची (एसईसीसी सूची) में नाम नहीं है या उसके परिवार के पास कोई भी राशन कार्ड उपलब्ध नहीं है, तो उस परिवार को पहले राशन कार्ड बनवाना होगा, उसके बाद योजना अंतर्गत पंजीकृत अस्पतालों में जाकर अपना आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं। आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए आधार कार्ड, परिवार के सभी सदस्यों का नाम सहित राशन कार्ड इत्यादि प्रस्तुत करना होगा तथा अपने साथ मोबाईल लेकर जाना होगा।

गौरतलब है कि गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन करने वाले परिवारों (एसईसीसी के परिवारों) तथा अंत्योदय एवं प्राथमिकता वाले राशन कार्डधारी परिवारों को आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजनांतर्गत प्रतिवर्ष आयुष्मान कार्ड से 05 लाख रूपये तक निःशुल्क ईलाज की सुविधा दी जाती है। इसी प्रकार एपीएल राशन कार्डधारी परिवारों को प्रतिवर्ष 50 हजार रूपये तक निःशुल्क ईलाज की सुविधा शासन द्वारा आयुष्मान कार्ड के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button