यहाँ सड़क में गड्ढा नही गड्ढा मे सड़क है

.
सीतापुर: नगर पंचायत सीतापुर रोड की खराब हालत सुधारने का जिम्मा कोई भी डिपार्टमैंट लेने को तैयार नहीं है। वैसे तो रोड पी.डब्ल्यू.डी. के अंतर्गत आती है पर वह भी टूटी हुई इस रोड को ठीक नहीं करवा रहे हैं क्योंकि उनका कहना है यह नगर पंचायत है इसलिए इसे नगर पंचायत ही ठीक करवाए पर नगर पंचायत इसकी जिम्मेदारी नहीं ले रहा है। अभाविप इकाई सीतापुर ने २२ सितम्बर को एस डी एम सीतापुर को ज्ञापन सौपा , साथ ही थाना प्रभारी को सुचना दिया। नवरात्रि पर्व में आने जाने वाली महिलाओं बच्चों अौर छात्र छात्राओं को हो रही परेशानी से अवगत कराया।

रोड कदम चौक से पेट्रोल टंकी सीतापुर तक खराब है जोकि नगर पंचायत के तहत आती हैं। अब दो डिपार्टमैंट के आपसी टकराव में लोगों को परेशानी हो रही है। पहले से ही रोड की स्थिति बुरी है और अब बारिश की वजह से इसकी हालत बदतर होती जा रही है। ऐसे में लोगों को लगातार परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बारिश से गड्ढों में पानी भरने के चलते आने-जाने वालों को मुश्किल आ रही है।

गौरतलब है कि सीतापुर शहर से गुजरने वाला नेशनल हाईवे  रोड लंबे समय से खराब चल रही है। भाजपा समर्थक नगर पंचायत के सरकार ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया और अब भी इस सड़क की हालत सुधारने के लिए कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। हालांकि जब भी जनता ने मांग की है तब लोकतंत्र के तंत्र ने गिट्टी या अन्य पत्थर को डाल पर्यावरण को प्रदुषण करने मे तथा जनता को नुकसान पहुंचाने मे कोइ कसर नहीं छोड़ा है। आवश्यकता से अधिक भारी वाहन का तेज गति से चलना भी कारण है।  यह रोड नैशनल हाईवे के तहत आती है तो इसे बनवाने का जिम्मा भी पी.डब्ल्यू.डी. का ही बनता है लेकिन अभी तक इसकी तरफ किसी ने भी ध्यान नहीं दिया है। यहाँ सड़क में गड्ढा नही गड्ढा मे सड़क है।
वैसे तो रोड़ के लिए आन्दोलन का जिम्मेदारी सीतापुर विधायक ने ली है अब जरुरत से ज्यादा समस्या होने पर छात्र संगठन ने जिम्मेदारी ली है।

advt
Back to top button