..तो इसलिए बिना किसी मनमुटाव पति से दूर रह रहीं हैं अलका याग्निक

अपनी मधुर आवाज से देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर में जादू बिखेराने वाली लीडिंग सिंगर्स अलका याग्निक | उनकी पर्सनल लाइफ बहुत सादी रही है. अलका और उनके पति काम के सिलसिले में अलग-अलग रहते हैं, उनकी एक बेटी भी है.

अपनी मधुर आवाज से देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर में जादू बिखेराने वाली लीडिंग सिंगर्स अलका याग्निक | उनकी पर्सनल लाइफ बहुत सादी रही है. अलका और उनके पति काम के सिलसिले में अलग-अलग रहते हैं, उनकी एक बेटी भी है.

अलका याग्निक का जन्म 20 मार्च 1966 को कोलकाता में हुआ था. वो एक गुजराती परिवार से ताल्लुकात रखती हैं. उनकी मां शोभा याग्निक भी एक क्लासिकल सिंगर थीं. अलका ने भी बहुत छोटी उम्र से गाना शुरू कर दिया था. उन्होंने शास्त्रीय संगीत की तालीम ली.

अलका याग्निक को भारतीय सिनेमा की लीडिंग सिंगर्स में गिना जाता है. अपनी मधुर आवाज से उन्होंने देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर में अपने संगीत का जादू बिखेरा.

6 साल की उम्र से ही वो कोलकत्ता में आकाशवाणी और ऑल इंडिया रेडियो के लिए गाने लगी थीं. 10 साल की उम्र में अपनी मां के साथ मुंबई आ गईं. बहुत ही छोटी उम्र में उन्होंने अपनी मां को खो दिया था.

सबसे पहले अलका की आवाज को मशहूर अभिनेता राज कपूर ने पहचाना और उन्हें म्यूजिक डायरेक्टर लक्ष्मीकांत के पास भेज दिया. अलका की आवाज लक्ष्मीकांत को काफी पसंद आई. उस समय अल्का की आवाज काफी महीन थी और पूरी तरह परिपक्व नहीं हुई थी जिस वजह से उन्हें थोड़ा देर से गाने का मौका मिला.

श्रेष्ठ महिला प्लेबैक सिंगर के वर्ग में 35 फिल्मफेयर नॉमिनेशन्स में से अलका ने 7 बार खिताब अपने नाम किया है. इसके अलावा उन्होंने 2 नेशनल अवॉर्ड भी जीते हैं.

1980 में फिल्म पायल की झंकार में उन्होंने अपने करियर का पहला गीत रिकॉर्ड किया था. 1988 में फिल्म तेजाब में माधुरी का गाना एक दो तीन गाया. ये गीत आज भी उतना ही ताजा है. इसी दौरान उन्होंने फिल्म कयामत से कयामत तक के लिए भी गीत गाए जो काफी पॉपुलर हुए.

खलनायक फिल्म में गाया हुआ उनका गीत चोली के पीछे क्या है अपने समय का सबसे कंट्रोवर्शियल गीत था. ये गीत उन्होंने ईला अरुण के साथ गाया था. एक पोल द्वारा ताल फिल्म में गाया गया उनका गीत ताल से ताल मिला को सदी के सबसे बेहतरीन गाने के रूप में चुना गया था.

अलका ने नीरज कपूर से शादी की है. दोनों की मुलाकात वैष्णों देवी जाते वक्त हुई थी. धीरे-धीरे दोनों के बीच दोस्ती बढ़ी और दोनों ने साल 1989 में शादी कर ली. अफवाह ये भी उड़ी थी कि दोनों एक दूसरे से अलग हो गए हैं. मगर अलका ने अपनी तरफ से ये साफ कर दिया था कि दोनों काम के सिलसिले में अलग-अलग रहते हैं और दोनों के बीच अच्छी अंडरस्टेंडिंग है.

advt
Back to top button