गृह वैद्यहेल्थ

टूटी हड्डी को जोड़ने के लिए 5 घरेलू नुस्खे

कई बार चाट लग जाने के कारण हड्डी टूट जाती है, जिसे बोन फ्रैक्‍चर भी कहा जाता है। मगर कई बार हड्डियों में लचीलापन कम हो जाता है, जिससे कि हड्डियां कमजोर हो जाती है। इससे छोटा सा झटका लगने से हड्डी टूट जाती है।

कई बार चाट लग जाने के कारण हड्डी टूट जाती है, जिसे बोन फ्रैक्‍चर भी कहा जाता है। मगर कई बार हड्डियों में लचीलापन कम हो जाता है, जिससे कि हड्डियां कमजोर हो जाती है। इससे छोटा सा झटका लगने से हड्डी टूट जाती है। हड्डी टूटने पर आपको असनीय दर्द का सामना करना पड़ता है।

हड्डी टूटने पर आपको फोरन डॉक्टर्स की मदद लेनी चाहिए और उसके बाद ही किसी भी तरह का प्रकृतिक उपचार करना चाहिए। आज हम आपको ऐसे ही कुछ घरेलू तरीके बताने जा रहे हैं, जिससे आप टूटी हड्डी को कुछ समय में ही जोड़ सकते है। तो आइए जानते टूटी हुई हड्डी को जल्द से जल्द जोड़ने के कुछ घरेलू उपाय।

हड्डी की चोट को कैसे पहचाने

हाथ, पैर की हड्डी टूटने या खिसकने पर वहां हल्का सा टेढ़ापन दिखाई देने लगता है। उस जगहें पर खून जमा होने के कारण सूजन और नीलापन आ जाती है और आपको असहनीय दर्द भी होता है।

हड्डी जोड़ने के घरेलू उपाय

1. देसी घी

2 चम्मच देसी घी, 1 चम्मच गुड़ और 1 चम्मच हल्दी को मिलाकर 1 कप पानी में उबाल लें। इसे ठंडा करने के बाद पी लें। दिन में 2 बार इसे पीने से आपकी टूटी हुई हड्डी जल्दी जुड़ जाएगी।

2. प्याज

1 पीसे हुई प्याज में 1 चम्मच हल्दी मिलाकर साफ कपड़े में बांध लें। इसके बाद कपड़े को तिल के तेल में गर्म करके टूटी हुई हड्डी पर सिकांई करें। दिन में 2 बार इसी तरह हड्डी की सिकांई करने से आपको दर्द से भी आराम मिलेगा और हड्डी भी जुड़ जाएगी।

3. उड़द दाल

उड़द दाल की दाल को धूप में सूखा कर पीसकर पेस्ट बना लें। इससे टूटी हुई हड्डी पर लगाकर पट्टी बांध लें। इस उपचार को करने से आपकी टूटी हड्डी जल्दी जुड़ जाएगी।

4. काली मिर्च

पिसी काली मिर्च और काग गंगा बूटी का रस मिक्स करके दिन में 3-4 बार पीएं। इसका सेवन आपकी टूटी हड्डी को कुछ दिनों में ही जोड़ देगा।

5. मुलेठी

मुलेठी, मंजीठ और खटाई का लेप बना लें। इसके बाद इसे टूटी हुई हड्डी पर लगाकर पट्टी बांध लें। इससे आपकी हड्डी जल्दी जुड़ जाएगी।

Summary
Review Date
Reviewed Item
टूटी हड्डी को जोड़ने के लिए 5 घरेलू नुस्खे
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.