ये 8 तोहफे लगा सकते है आपके खुशियों में ग्रहण

उपहार लेते समय इन बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए

आजकल हमे नए तौर तरीकों के साथ अपने कई चीजों में बदलाव कर चुके हैं। उनमें से गिफ्ट देना और किसी दोस्त का गिफ्ट अच्छा हो तो उससे एक्सचेंज करना एक आम बात हो गई है।

लेकिन क्या आप जानते है अक्सर हम गिफ्ट एक्सचेंज करके खुशियों से भर जाते हैं। लेकिन एक बात हम गौर नहीं कर पाते कि सामने वाले की नियत कैसी है।

वो आपको किय नीयत से गिफ्ट दे रहा है। अगर तोहफा देने वाली की नियत साफ है तो वो आपकी खुशियों को दोगुना कर देगा। लेकिन अगर उस व्यक्त की नियत साफ नहीं है तो आपके खुशियों में ग्रहण भी लग सकता है।

व्यक्ति को किसी से भी उपहार लेते समय इन बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए।

इन 8 चीज़ों को गिफ़्ट में देने वाला चाहता है आपका बुरा, जानें क्या है ये चीज़ें-

हिंसक जानवर जैसे शेर, बाघ, चीता की तस्वीर या मूर्ति उपहार में लेना देना।

डूबते हुए जहाज की मूर्ति उपहार में मिलना और उसे घर में रखना अशुभ फलदायक होता है। इससे आर्थिक नुकसान होता है।

चाकू छुरी न तो किसी को उपहार में देना चाहिए और अगर कहीं से मिले तो उसे घर में नहीं रखना चाहिए। यानि उपहार में चाकू का लेन देन न करें इससे परिवार में कलह होता है।

कभी किसी को काले वस्त्र उपहार में नहीं देना चाहिए। अगर कोई आपको यह देता है तो यह अपशकुन माना जाता है। यह दुःख, कष्ट और पीड़ादायक माना जाता है।

इसे मृत्यु कारक भी माना गया है यही वजह है कि शादी के एक साल तक काले वस्त्र धारण करना अच्छा नहीं माना जाता।

जूते को उपहार में देना जुदाई का प्रतीक माना जाता है। प्रेमियों को इसे एक दूसरे को बिल्कुल भी नहीं देना चाहिए इससे दोनों की राहें अलग हो जाती हैं।

रुमाल उपहार में देना दुखकरक माना गया है। इससे जीवन में कष्ट आता है।

Back to top button