डायबीटीज के लिए जरूरी है ये ड्राईफ्रूटस, जानें

डायबीटिक लोगों को उन्हीं नट्स का सेवन करना चाहिए जिससे उनका ब्लड शुगर कंट्रोल में रहे

विटमिन, मिनरल्स, कैल्शियम और अनसैच्युरेटेड फैटी ऐसिड से भरपूर नट्स का सेवन हर दिन करने से आप कई तरह की बीमारियों से बच सकते हैं। लेकिन अगर आप डायबीटीज के मरीज हैं तो हर तरह के नट्स का सेवन आपके लिए ठीक नहीं है।

डायबीटिक लोगों को उन्हीं नट्स का सेवन करना चाहिए जिससे उनका ब्लड शुगर कंट्रोल में रहे। यहां हम आपको 5 ऐसे नट्स के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप अपनी डायट में शामिल कर हेल्दी और फिट रह सकते हैं।

अखरोट

अखरोट एक हाई कैलरी फूड है लेकिन इससे शरीर के वजन पर कुछ खास असर नहीं पड़ता। एक स्टडी के अनुसार अखरोट आपकी भूख को कम कर सकता है और इसे खाने से काफी देर तक आपका पेट भरा रहता है। नियमित रूप से अखरोट खाने से वजन भी कम किया जा सकता है। साथ ही ये शरीर में फास्टिंग इंसुलिन के स्तर को कम करता है।

मूंगफली

मूंगफली प्रोटीन और फाइबर का एक अच्छा स्त्रोत है। टाइप 2 डायबीटीज के मरीजों के लिए मूंगफली काफी फायदेमंद है। प्रतिदिन मूंगफली के सेवन से न केवल वजन कंट्रोल होता है बल्कि साथ ही साथ दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी कम होता है।

डायबीटिक लोगों में मूंगफली ब्लड शुगर के स्तर को कंट्रोल करता है। इसके अलावा आपके शरीर को डायबीटीज से बचाने में भी फायदेमंद है। आप हर रोज 28-30 मूंगफली खाकर स्वस्थ रह सकते हैं।

बादाम

रिपोर्ट्स की मानें तो बादाम डायबीटीज के मरीजों में ग्लूकोज के स्तर को मैनेज करता है। डायबीटीज और दिल की बिमारियों के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस होता है जिसे बादाम खाकर कंट्रोल किया जा सकता है।

प्रतिदिन एक बादाम खाने से आपके शरीर में मैग्नेशियम की मात्रा पर्याप्त बनी रहती है। बिना नमक के कच्चे बादाम बेस्ट होते हैं। आप चाहें तो बादाम को रातभर पानी में भीगोकर सुबह खा सकते हैं।

काजू

प्रतिदिन काजू के सेवन से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है और साथ ही साथ दिल से जुड़ी बीमारियों का रिस्क भी कम होता है। अन्य नट्स की तुलना में काजू में फैट की मात्रा कम होती है

काजू आपके शरीर के ब्लड ग्लूकोज के स्तर और वजन पर कोई नकारात्मक असर नहीं डालता। इस तरह से ये डायबीटीज में फायदेमंद है। प्रतिदिन कोजू का सेवन काफी फायदेमंद हो सकता है।

1
Back to top button