क्रिकेटखेल

IPL में धमाल मचा रहे हैं ये 5 खिलाड़ी, रिटेन ना करना फ्रेंचाईजियों को पड़ा महंगा

आईपीएल सीजन-11 खत्म होने की कगार पर

स्पोर्ट्स डेस्क(राहुल): आईपीएल सीजन-11 खत्म होने की कगार पर है। इस सीजन में कई नए चेहरे देखने को मिले तो कई पुराने खिलाड़ियों ने बल्ले से रन बरसाकर आलोचकों को जवाब दिए। इस बार विदेशी खिलाड़ी कुछ खास नहीं कर सके लेकिन देसी खिलाड़ियों ने मैच देखने आए दर्शकों के पैसे जरूर वसूल करवाए। खिलाड़ियों की जब बोली लगी थी तो उससे पहले कुछ फ्रेंचाईजियों ने कईयों को रिटेन करने में रूचि नहीं दिखाई तो कईयों को पैसों की बचत करते हुए खरीद नहीं सके। फिर वो ही खिलाड़ी सीजन में विरोधी टीमों के लिए खतरनाक उभरकर सामने आए। आइए हम आपको बताते हैं 5 उन खिलाड़ियों के बारे में जिन्हें रिटेन ना करना आैर ना ही बोली के समय खरीदना फ्रेंचाईजियों को महंगा पड़ गया।

1. केएल राहुल
माैजूदा समय में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए ओपनिंग कर रहे केएल राहुल ने अपने प्रदर्शन से सबको चाैंकाया। उन्होंने 2016 का सीजन बेंगलुरू के लिए खेला था, जिस दाैरान उन्होंने 14 मैचों में 397 रन बनाए। बावजूद इसके बेंगलुरू फ्रेंचाईजी ने उन्हें रिटेन करना जरूरी नहीं समझा। बेंगलुरू ने विराट कोहली, एबी डीविलियर्स आैर सरफराज खान को रिटेन किया। सरफराज इस सीजन में 6 मैचों में सिर्फ 22 रन ही बना सके। अगर फ्रेंचाईजी सरफराज की जगह राहुल पर भरोसा जताती तो उन्हें बताैर अोपनर के साथ-साथ विकेटकीपर भी मिलता।

राहुल को रिटेन ना करने का परिणाम अब यह रहा कि उन्होंने पंजाब की तरफ से खेलते हुए 14 गेंदों में आईपीएल इतिहास का सबसे तेज अर्धशतक बना दिया। वह अबतक खेले गए 13 मैचों में 652 रन बना चुके हैं आैर पर्पल कैप पर भी इन्हीं का कब्जा है। राहुल को पंजाब फ्रेंचाईजी ने 11 करोड़ में खरीदा था।

2. अंबाती रायुडू
रायुडू ने पिछला सीजन मुंबई इंडियंस की तरफ से खेला था। लेकिन मुंबई टीम ने उनपर ज्यादा भरोसा नहीं किया आैर उन्हें सिर्फ 5 ही मैचों में खेलने का माैका मिला था, जिसमें उन्होंने 91 रन बनाए थे। हालांकि 2016 में रायुडू ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 13 मैचों में 334 रन जरूर बनाए थे। पर मुंबई फ्रेंचाईजी ने सीजन 2018 के लिए रायुडू को नजरअंदाज किया। जब बोली लगी तो उनपर चेन्नई सुपर किंग्स ने विश्वास किया आैर 2.20 करोड़ में खरीदा।

रायुडू ने भी मुंबई फ्रेंचाईजी को रिटेन ना करने पर करारा जवाब दिया आैर अबतक खेले गए 12 मैचों में 1 शतक आैर 2 अर्धशतक की बदाैलत 535 रन बना दिए। मुंबई ने उन्हें कभी भी ओपनिंग पर नहीं उतारा लेकिन चेन्नई ने उन्हें ऊपर खेलने का माैका दिया। मुंबई ने रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या आैर जसप्रीत बुमराह को रिटेन किया था।

3. सूर्यकुमार यादव
यादव ने पिछला सीजन कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ खेला था। हालांकि उस दाैरान केकेआर ने उन्हें निचले क्रम पर खेलने का माैका दिया जहां यादव कुछ खास नहीं कर सके। यादव ने पिछले सीजन में 10 मैचों में 105 रन ही बनाए। शायद इसी के मध्य नजर रखते हुए केकेआर फ्रेंचाईजी ने उन्हें खरीदना नहीं चाहा पर यह उनकी बड़ी गलती साबित हुई। यादव को खरीदने के लिए कोलकाता ने 2.60 करोड़ तक बोली पहुंचाई लेकिन मुंबई इंडियंस ने उन्हें 3.20 करोड़ देकर अपनी टीम में शामिल कर लिया।

मुंबई ने यादव को बताैर ओपनर उतारा। उन्होंने अबतक खेले गए 13 मैचों में 500 रन बना लिए हैं आैर मुंबई को हर मैच में अच्छी शुरूआत दी। वहीं केकेआर अब उनको जरूर याद कर रही होगी कि आखिरी क्यों फ्रेंचाईजी ने इस धाकड़ खिलाड़ी रिटेन नहीं किया। केकेआर ने आंध्रे रसेल आैर सुनील नारायण को रिटेन किया था।

4. जोस बटलर
बटलर इस सीजन में विस्फोटक ओपनरों में से एक हैं। उन्होंने राजस्थान राॅयल्स की तरफ से ओपनिंग करते हुए अबतक खेले गए 13 मैचों में 548 रन बनाए हैं, जिसमें 5 अर्धशतक भी माैजूद हैं। उन्होंने अपने दम पर राजस्थान को कई मैच जितवाए। बटलर के इस प्रदर्शन को देख उन्हें मुंबई इंडियंस की टीम जरूर याद कर रही होगी। बटलर ने अपने आईपीएल करियर की शुरूआत मुंबई इंडियंस की तरफ से की थी। उन्होंने 2016 में 14 मैचों में 255, जबकि 2017 में 10 मैचों में 272 रन बनाए थे।

हालांकि नीलामी के दाैरान मुंबई फ्रेंचाईजी ने बटलर को खरीदने की पूरी कोशिश की, लेकिन अंत में राजस्थान ने उन्हें 4.40 करोड़ में खरीद लिया। वहीं मुंबई फ्रेंचाईजी उनपर 4.20 करोड़ तक की बोली लगा सकी। अगर वह बटलर पर 20-40 लाख आैर लगा देते तो शायद सीजन 2018 में धमाल मचाने वाले बटलर मुंबई में वापिस लाैटते।

5. एंड्रयू टाॅय
अगर बात की जाए इस सीजन में सबसे खतरनाक गेंदबाज की तो वो हैं एंड्रयू टाॅय। टाॅय पंजाब की तरफ से खेलते हुए अबतक 13 मैचों में 24 विकेट ले चुके हैं आैर पर्पल कैप भी उनके पास है। टाॅय ने पिछला सीजन गुजराज लायंस की तरफ से खेला था जिसमें उन्होंने 6 मैचों में 12 विकेट लिए थे। जब नीलामी लगी तो मुकाबला पंजाब आैर चेन्नई के बीच देखने को मिला। चेन्नई के पास माैका था कि वह उन्हें रिटेन कर सके लेकिन उन्होंने नहीं किया। रिटेन ना कर पाने के बाद नीलामी के समय चेन्नई फ्रेंचाईजी ने उन्हें किसी भी हद तक खरीदने के लिए 7 करोड़ दांव पर लगा दिए पर अंत में पंजाब की मालकिन प्रीति जिंटा ने उन्हें 7.20 करोड़ में खरीद लिया।

चेन्नई ने एम एस धोनी, सुरेश रैना आैर रविंद्र जडेजा को रिटेन किया था। अगर चेन्नई रैना आैर जडेजा की जगह टाॅय को रिटेन करती तो उनकी टीम में आैर मजबूती आती। हालांकि चेन्नई प्लेआॅफ में जगह बना चुका है लेकिन टाॅय की गेंदबाजी से वो भी हैरान हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
IPL में धमाल मचा रहे हैं ये 5 खिलाड़ी, रिटेन ना करना फ्रेंचाईजियों को पड़ा महंगा
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.