व्रत में ये फलाहार करें शामिल, रहें स्वस्थ

चैत्र के नवरात्रि का आगाज हो चुका है. नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में भक्त व्रत रखकर मां दुर्गा की उपासना करते हैं

चैत्र के नवरात्रि का आगाज हो चुका है. नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में भक्त व्रत रखकर मां दुर्गा की उपासना करते हैं. हिंदू रीति रिवाजों मे उपवास की परंपरा सदियों से चली आ रही है.

मां की उपासना के ये नौ दिन बेहद पवित्र माने जाते हैं. नौ दिनों तक होने वाले इन व्रतों में स्वास्थ्य को कोई नुकसान ना हो, इसकेे लिए जरूरी है कि नवरात्रों में खानपान सही हो. अगर आपने भी उपवास रखा है तो आप भी अपनी सेहत का ख्याल रखें.

फल
उपवास के दौरान फलों का सेवन किया जाता है. बाजार में उपलब्ध मौसमी फलों के जरिए आप व्रत में फलों की चाट, फलों का जूस आदि निकाल सकते हैं. फलों में एंटीऑक्सीडेंट्स, मिनरल आदि की मात्रा ज्यादा पाई जाती है. व्रत के दौरान इनका सेवन करने से आपको कमजोरी का अहसास नहीं होगा. जूस पीने से आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होगी और ये आपको डिहाइड्रेशन से भी बचाएगा.

साबूदाना
साबूदाने में कार्बोहाइड्रेट के साथ-साथ कैल्शियम और विटामिन सी भी होता है. इससे शरीर में भरपूर ऊर्जा मिलती है. ये हजम भी आसानी से हो जाता है. इसलिए व्रत में इसका सेवन किया जाता है. साबूदाना खाने से पेट में होनी वाली परेशानी को भी ये दूर करता है. ये कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी मेनटेन करके शरीर की फिटनेस को बरकरार रखता है. व्रत के दौरान आप साबूदाने की खीर, पूरी, पापड़, खिचड़ी आदि बनाकर खा सकते हैं.

कुट्टू का आटा
कुट्टू के आटे का प्रयोग व्रत में सबसे ज्यादा किया जाता है. कुट्टू के आटे से पकौड़ी, रोटी, पूरी या पराठां बनाकर व्रत में खाया जा सकता है. व्रत के दौरान ये सबसे आसानी से बनने वाला पौष्टिक और स्वादिष्ट आहार है. इसमें मैग्नीशियम, विटामिन-बी, आयरन, कैल्शियम, फॉलेट, जिंक, कॉपर, मैग्नीज और फासफोरस भरपूर मात्रा में होता है.

आलू
व्रत कोई भी हो आलू लोगों की पहली पसंद माना जाता रहा है. आलू में सबसे ज्यादा स्टार्च की मात्रा होती है. सूखे आलू के साथ-साथ आप आलू के पापड़ और चिप्स भी खा सकते हैं. बाजार में आलू के पापड़ और चिप्स दोनों आसानी से मिल जाते हैं.

ड्राई फ्रूट्स
व्रत में आप ड्राई फ्रूट्स का सेवन कर सकते हैं जैसे मखाने, बादाम, बादाम, किशमिश, मूंगफली, काजू आदि. उपवास के दौरान अगर आप यह खाते हैं तो शरीर को बहुत ज्यादा ऊर्जा मिलती है. अगर आपको सूखे मेवे खाने की आदत नहीं है, तो आप इन्हें देसी घी में थोड़ा सा फ्राई करके भी खा सकते हैं. इनको खाने से शरीर को बहुत ज्यादा ऊर्जा मिलती है.

समा के चावल
समा के चावल व्रत के दिनों में खाए जाने वाले एक विशेष प्रकार के चावल हैं. यह देखने में सूजी से थोड़े बड़े और दलिया से थोड़े छोटे दाने जैसे होते हैं. समा के चावल से आप पुलाव भी तैयार कर सकते हैं. कई उपवासी आलू की सब्जी के साथ समा के चावल भी खाना पसंद करते हैं.

दही
व्रत में दही का सेवन बहुत लाभदायक होता है. दूध की तुलना में दही में कैल्शियम की मात्रा ज्यादा पाई जाती है. दही में लेक्टोज, प्रोटीन, लोहा, कैल्शियम, फास्फोरस इत्यादि कई तरह के विटामिंस मौजूद होते हैं. जो शरीर के लिए काफी लाभदायक होता है.

मिठाई
अगर आपको मीठे का शौक है तो उपवास के दौरान आप कई तरह की मिठाइयों का सेवन कर सकते हैं. मीठा खाकर अक्सर भूख शांत हो जाती है, इसलिए कई लोग व्रत में नारियल के लड्डू, तिल के लड्डू, चौलाई के लड्डू, बर्फी, मिल्क केक जैसी मिठाइयां घर में तैयार कर लेते हैं या बाजार से खरीद लाते हैं.

advt
Back to top button