106 लोगों को लेकर रवाना हुई ये रहस्यमयी ट्रेन, सुनकर छूट गए अधिकारियों के पसीने

दोनों यात्रियों ने बताया कि ट्रेन जैसे ही सुरंग में घुसने वाली थी, वहां बेहद ही रहस्यमयी तरीके से धूंआ निकलने लगा

दुनिया में ऐसी घटनाओं की कोई कमी नहीं है, जो आज भी रहस्य बनी हुई हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही रहस्यमयी घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में आप शायद ही जानते होंगे। ये मामला आज से करीब 107 साल पुराना, 1911 का है।

इटली के रोम से 106 यात्रियों को लेकर रवाना हुई ट्रेन अपने रास्ते से अचानक गायब हो गई। रास्ते से गायब हुई उस ट्रेन के बारे में आज तक पता नहीं चल पाया है।

रिपोर्ट्स बताते हैं कि जेनेटी नाम की ये ट्रेन रोमन स्टेशन से रवाना होने के बाद एक सुरंग से होते हुए गुज़र रही थी, लेकिन जेनेटी सुरंग से बाहर ही नहीं निकली और वहीं गायब हो गई।

जेनेटी में सफर कर रहे कुल 106 यात्रियों में से दो यात्री सुरंग में ही ट्रेन से कूद गए थे। ट्रेन से कूदे दोनों यात्रियों से जब इस बारे में बातचीत की गई तो उन्होंने ऐसा वाक्या बताया, जिसे सुनने के बाद अच्छे-अच्छे अधिकारियों के भी पसीने छूट गए।

दोनों यात्रियों ने बताया कि ट्रेन जैसे ही सुरंग में घुसने वाली थी, वहां बेहद ही रहस्यमयी तरीके से धूंआ निकलने लगा। रहस्यमयी तरीके से निकल रहे धूंए को देखकर वे दोनों काफी घबरा गए और चलती ट्रेन से ही कूद गए।

रिपोर्ट्स की मानें तो सुरंग से इस तरह गायब हुई ट्रेन अपने भूतकाल में चली गई थी। जी हां, साल 1911 में रोम की सुरंग से गायब हुई ट्रेन 71 साल पीछे साल 1840 में मेक्सिको जा पहुंची थी।

मेक्सिको के एक अस्पताल में काम करने वाली एक महिला डॉक्टर ने बताया था कि 1840 में उनके अस्पताल में 104 मरीज आए थे। डॉक्टर के मुताबिक वे सभी मरीज पागल हो चुके थे,

हालांकि उन्होंने डॉक्टर को ये बता दिया था कि वे रोम से आए हैं। मरीजों की ये बात सुनकर डॉक्टर पूरी तरह से सन्न रह गईं थी, क्योंकि रोम से मेक्सिको आने के लिए ट्रेन तो दूर, पटरियां ही नहीं थीं।

Back to top button