भुट्टा खाने के बाद नही पीना चाहिए पानी हो सकती हैं ये समस्याएं

भुट्टा खाने के तुरंत बाद पानी से बचना चाहिए

मॉनसून का आगाज़ हो चुका है. ऐसे में भुट्टा खाने वाले लोगों की तादात भी बढ़ गई है. बारिश में चटपटा और मीठा भुट्टा खाने का मजा ही अलग होता है. इसका मजा दोगुना करना है तो आप इस पर नींबू का रस और मसाला लगा सकते हैं. भुट्टा खाने में न केवल बेहद टेस्‍टी लगता है बल्कि यह काफी हेल्‍दी स्‍नैक्‍स भी है.

लेकिन ये आपके लिए तब समस्‍या भी पैदा कर सकता है अगर आप इसे खाने के बाद पानी पी लेते हैं. आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ. आशुतोष गौतम के अनुसार, भुट्टा खाने के तुरंत बाद पानी से बचना चाहिए, क्योंकि इससे पेट संबंधी विभिन्न प्रकार की समस्याएं पैदा हो सकती हैं. इससे गैस्ट्रिक समस्‍याएं और पेट दर्द हो सकता है.

भुट्टा खाने के बाद पानी पीने से बहुत से लोग पेट फूलने और गंभीर पेट दर्द की शिकायत करते हैं. यह एक विशिष्ट कारण से होता है. डॉ. आशुतोष कहते हैं, भुट्टा खाने के बाद पानी पाचन प्रक्रिया को काफी हद तक बाधित कर सकता है.

ऐसा करने से पाचन प्रक्रिया धीमी हो जाती है. मक्‍के में मौजूद कार्बोस और स्टार्च के पानी के सम्‍पर्क में आकर पेट में गैस रूक सकती है जिससे पेट फूलना, एसिडिटी और गंभीर पेट दर्द हो सकता है. अगर आपको भी ये समस्‍याएं हो रही हैं तो ध्‍यान दें कि कहीं आप भी भुट्टा खाने के बाद पानी तो नहीं पी रहे हैं.

डॉ. आशुतोष कहते हैं, ऐसी गंभीर स्थि‍ति से बचने के लिए भुट्टा खाने और पानी पीने के बीच उचित अंतराल रखें. कम से कम 45 मिनट का अंतर जरूर होना चाहिए. इसके अलावा भुट्टे पर नींबू का रस लगाकर खाएं. क्योंकि नींबू पाचन शक्ति को बढ़ाता है और समग्र पाचन प्रक्रिया को सुचारू और प्रभावी बनाता है.

मॉनसून के दौरान पाचन शक्ति कमजोर होने के चलते हमारा शरीर रोगों की चपेट में जल्‍दी आने लगता है. भुना हुआ भुट्टा चुंकि अकसर बाहर ही मिलता है तो इसे ताजा और गर्म ही खाना चाहिए. भुट्टे के अधिकतम पोषण लाभ लेने के लिए, इसे तुरंत खाएं. लंबे समय तक इसे रखने से हानिकारक बैक्टीरिया बढ़ सकते है, जो पेट संबंधित समस्‍याओं का कारण बन सकता है.

new jindal advt tree advt
Back to top button