CBSE के इन टीचरों ने पेपर चेकिंग में की गलती ,मिली ये सज़ा

चेकिंग करने वाले कुछ टीचरों ने अंकों की गलत काउंटिंग की थी

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षा में 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स के अनुरोध पर दोबारा काउंटिंग के बाद पाया गया कि चेकिंग करने वाले कुछ टीचरों ने अंकों की गलत काउंटिंग की थी.

इसके बाद पांच टीचरों को निलंबित करने के लिए शहर के स्कूलों को नोटिस भेजा गया है. बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार जिन स्कूलों में चेकिंग के दौरान इस तरह की गलतियां पायी गयी उनके खिलाफ इसी तरह की कार्रवाई करने का आदेश बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय दे सकता है.

सीबीएसई के एक अधिकारी ने बताया कि दोबारा चेकिंग पर यह बात सामने आयी कि दिल्ली के कुछ स्टूडेंट्स को इस साल मई में घोषित परिणामों में जो अंक मिले थे, उसकी तुलन में 50-55 अंक अधिक मिले. एक मामले में पाया गया कि एक स्टूडेंट जिसे शुरू में उर्दू में फेल कर दिया गया था, वह रिचेकिंग के बाद पास हो गया. इस बारे में एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार की जा रही है.

अधिकारी ने बताया कि दिल्ली क्षेत्र के पांच टीचरों ने इस तरह की गलतियां की है जिसमें सरकारी स्कूल के तीन टीचर और निजी स्कूलों के दो टीचर शामिल हैं. स्कूलों से समुचित कार्रवाई करने को कहा गया है. इस साल कक्षा 10 और 12 की सीबीएसई की परीक्षा में शामिल हुए स्टूडेंट्स के लिए रिचेकिंग की प्रक्रिया एक जून से शुरू हुई थी.

Back to top button