राष्ट्रीय

वास्तविक नियंत्रण रेखा पर युद्ध जैसे हालात, भारत और चीन ने बॉर्डर पर जमा किए आधुनिक टैंक्स और हथियार

LAC पर हालात काफी तनावपूर्ण

नई दिल्ली: लद्दाख में भारतीय और चीन बॉर्डर के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) पर हालात युद्ध की तरह लग रहे हैं. दोनों ओर की सेनाओं ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) के पास टैंक्स, मशीनगन और आधुनिक हथियारों का जखीरा जमा कर लिया है और वायुसेना की क्षमता भी बढ़ाई जा रही है. लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) पर भारत-चीन के बीच गतिरोध बरक़रार है. काफी समय से सीमा पर चल रहे विवाद को निपटाने के लिए शनिवार को चुशुल में ब्रिगेड- कमांडर स्तर की वार्ता भी बेनतीजा रही.

LAC पर हालात काफी तनावपूर्ण

आज तक की रिपोर्ट के अनुसार, LAC पर हालात काफी तनावपूर्ण बने हुए हैं. चीन बॉर्डर पर टाइप 15 लाइट टैंक्स, इंफैंट्री फाइटिंग व्हिकल्स, AH4 हॉवित्जर गन्स, HJ-12 एंटी टैंक्स गाइडेड मिसाइल्स, W-85 हैवी मशीनगन, NAR-751 लाइट मशीनगन और एंटी-मैटेरियल स्नाइपर राइफल्स के साथ भारत को आँख दिखाने की कोशिश कर रहा है. वहीं भारत ने जबाव में बॉर्डर पर T-90 भीष्म टैंक्स, BMP-2K इंफैंट्री फाइटिंग व्हिकल्स, M777 अल्ट्रा लाइट हॉवित्जर गन्स, स्पाइक एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल्स, NEGEV लाइट मशीनगन्स, TRG स्नाइपर राइफल्स को तैनात कर दिया है.

आसमान में भी ऐसे ही कुछ हालात हैं. भारत के लद्दाख के हवाई क्षेत्र में सुखोई 30, मिग 29, मिराज 2000, चिनूक और अपाचे हेलिकॉप्टर को खड़ा कर रखा है. वहीं चीन ने LAC पर लगे इलाकों में सैन्य ठिकानों के साथ ही वायुसेना की ताकत बढ़ाना आरंभ कर दिया था. उसने तिब्तत के उतांग क्षेत्र में एयरबेस तैयार किया है, जो LAC से महज 200 किमी दूर है. चेंगदू J-20 स्टील्थ लड़ाकू विमान LAC पर एक्टिव किए और अब उसने परमाणु बम गिराने वाले बॉम्बर जेट्स के साथ तिब्बत के पठारी क्षेत्र में युद्धाभ्यास भी आरंभ कर दिया है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button