सोशल मीडिया पर फेमस हुई ब्रिटेन की ईंट-पत्थर ढोने वाली यह सुन्दर लड़की

सोशल मीडिया पर 1 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स

लंदन:ब्रिटेन में भवन निर्माण के क्षेत्र में काम करने वाली 25 वर्षीय डार्सी के मजदूरी के वीडियो ने उसे इतना फेमस कर दिया है कि सोशल मीडिया पर 1 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं. टिकटॉक पर ईंट बिछाते हुए के वीडियो जमकर धूम मचा रहे हैं, जिन्हें लोगों द्वारा खूब पसंद किया जा रहा है.

डार्सी अपने काम से बेहद प्रसन्न है. वो कहती है कि “कौन जानता था कि स्टील-कैप के जूते इतने सेक्सी हो सकते हैं? हैरानी यह है कि ज्यादातर महिलाएं वर्दी में एक लड़के को पसंद करती हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि पुरुष भी करते हैं.”

डार्सी का कहना है कि “मैं युवा लड़कियों के कमेंट्स से अधिक प्रसन्न हूं, जो कहती हैं कि मैंने उन्हें पारंपरिक रूप से पुरुषों की तरह काम करने के लिए प्रेरित किया है.” काम में किसी तरह का बंटवारा नहीं होना चाहिए, महिलाएं हर काम कर सकती हैं.

डार्सी बताती हैं कि “ये बहुत अच्छा है कि युवा लड़कियां इस काम में रुचि दिखा रही हैं, भवन केवल लड़कों के लिए नहीं हैं.” वह जोर देकर कहती हैं कि एक भवन निर्माण स्थल पर काम करना एक कार्यालय की तुलना में अधिक मजेदार है. यहां हर दिन नई चुनौती सामने आती है.

उसका कहना है कि निर्माण क्षेत्र में कोई दिलचस्पी नहीं थी, वह एक एक पॉप स्टार बनना चाहती थीं. अच्छे कपड़े पहनकर एक राजकुमारी की तरह रहना चाहती थीं. कभी नहीं सोचा था कि धूल मिट्टी में इस तरह काम करना होगा और पैर में स्टील के जूते पहनने पड़ेंगे.

डार्सी ने हालांकि ये भी कहा कि उसे चीजों का निर्माण करना पसंद है. एक बार काम पूरा करने के बाद उसे खुद पर गर्व होता है. उसने बताया कि पिछले सप्ताह ही 200 साल पुरानी इमारत के नवीनीकरण के लिए चल रहे काम में मदद की थी.

निर्माण क्षेत्र में काम करना एक चुनौती थी, लेकिन हर काम अलग होता है, जो मुझे पसंद है. उसने बताया कि हाईस्कूल छोड़ने के बाद चार साल तक ऑस्ट्रेलिया में रही, जहां उसने वेटर की नौकरी भी की.

डार्सी ने कहा कि जब यूके वापस आई, तो समझ नहीं पा रही थी कि क्या काम करना चाहिए. इसलिए अपने पिता के साथ निर्माण कंपनी रिचर्ड्स बिल्डर्स में नौकरी कर ली.

उसने बताया कि पहले तो सोचा था कि सिर्फ सीमेंट मिलाऊंगा और मदद करूंगी, लेकिन मुझे जल्दी ही एहसास हुआ कि मुझे ईंट बनाने और चीजों का निर्माण करना कितना पसंद है. इसलिए पूरी तरह इस काम को अपना लिया.

डार्सी का कहना है कि उन्हें विश्वास नहीं हो रहा है कि काम करते हुए के उसके वीडियो वायरल हो गए हैं. उसने बताया कि जब वह काम सीख रही थी, तो उसके भाई ने सुझाव दिया कि इस काम के सीखने के वीडियो ऑनलाइन अपलोड करने चाहिए.

भाई की बात मानकर उसने वीडियो अपलोड करना तो शुरू किए, लेकिन उसे ये नहीं पता था, कि ये वीडियो इतने पसंद किए जाएंगे. उसने बताया कि “तीन महीने के भीतर मुझे हजारों व्यूज मिले और मेरे फॉलोअर्स की संख्या बढ़ गई.

उसने बताया कि यह एक पागलपन था. लोगों को विश्वास ही नहीं हो रहा था कि एक महिला इस तरह कड़ी मेहनत कर रही है. उसके वीडियो पर कमेंट्स और पसंद करने वालों की भरमार थी.
डार्सी ने बताया कि “मैं अपने वीडियो को मजेदार और शिक्षाप्रद बनाने की कोशिश करती हूं. मैं दूसरों को प्रेरित करना चाहती हूं, खासकर लड़कियों को जो मानती हैं, कि ​भवन निर्माण का काम सिर्फ पुरुष कर सकते हैं.”

ब्रिटेन की करियर वेबसाइट गो कंस्ट्रक्ट के मुताबिक निर्माण क्षेत्र में महिलाओं की हिस्सेदारी 14 प्रतिशत है. विशेषज्ञों का मानना ​​है कि यह आंकड़ा बढ़ना तय है. इस क्षेत्र में आने वाले लोगों में 37 प्रतिशत उच्च शिक्षा प्राप्त करके आए हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button