सीएम भूपेश बघेल के कर्ज माफी के ऐलान को इस नेता ने बताया ऐतिहासिक फैसला

मध्यप्रदेश की तरह छत्तीसगढ़ में भी किसानों को बड़ी सौगात

रायपुर:

छत्तीसगढ़ के नवनियुक्त मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा किसानों से किये गये कर्जमाफ़ी के ऐलान को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने एक ऐतिहासिक फैसला बताया है.

नवनियुक्त मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस घोषणा पत्र के प्रथम वायदों को पूरा करने की घोषणा शपथ ग्रहण के मात्र 3 घंटे पश्चात ही किया जाना किसानों के प्रति निष्ठा ईमानदारी को दर्शाता है. उन्होने यह ऐलान करके एक ऐतिहासिक फैसला लिया है.

भाजपा के 15 वर्षो में किसानों की बदहाली बढ़ती आत्महत्त्याओ की घटनाओं से पीड़ित किसानों से आईसीसी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के किसानों से काँग्रेस की सरकार बनने पर 10 दिनों के अंदर ही कृषि कर्ज माफी को लेकर वायदा किया था.

मध्यप्रदेश की तरह छत्तीसगढ़ में भी किसानों को बड़ी सौगात मिली है. यहां भी किसानों का कर्ज माफ कर दिया गया है. भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के महज कुछ देर बाद ही कैबिनेट की बैठक ली और किसानों की कर्ज माफी सहित कई फाईलों में अपने हस्ताक्षर किये.

किसानों की कर्ज माफी से प्रदेश के 16 लाख किसान लाभान्वित होंगे. 6100 करोड़ से ज्यादा की ऋण राशि माफ करने का फैसला लिया है. इसके साथ ही कैबिनेट में दूसरा फैसला धान का समर्थन मूल्य का है,

कैबिनेट ने धान का समर्थन मूल्य 1700 से 2500 रुपये करने का निर्णय लिया. उसके साथ ही तीसरा निर्णय झीरम कांड में एसआईटी गठन करने का निर्णय प्रमुख रुप से शामिल रहा है.

तिवारी ने कहा कि, कांग्रेस ने चुनाव के वक्त किसानों से वादा किया था कि सरकार बनने के 10 दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा. कर्जमाफी को लेकर भाजपा के आरोपों के जवाब में कांग्रेस नेताओं ने हाथ में गंगाजल लेकर कसम भी खाई थी.

जिसके बाद आज अपने उस वादे को कांग्रेस की सरकार ने पूरा कर दिया है, आने वाले समय मे बाकी सभी वायदे भी जल्द पूरे होंगे ये हमारा संकल्प है।

new jindal advt tree advt
Back to top button