घर के इस हिस्से में है गड़बड़ी, तो छाई रहेगी उदासी

इस हिस्से को घर का सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है

वास्तु के अनुसार घर का एक-एक हिस्सा वहां रहने वालों पर असर डालता है। जिसमें आज हम बात करने जा रहे हैं आग्नेय कोण के बारे में। इस हिस्से को घर का सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है।

कहते हैं इसका सबसे ज्यादा प्रभाव घर की महिलाओं पर पड़ता है। इस दिशा को रसोई के लिए प्रफेक्ट माना जाता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार, जिस घर में आग्नेय कोण में गड़बड़ी होती है, उस घर की महिला को बेवजह बदनामी का सामना करना पड़ सकता है।

माना जाता है कि इस कारण घर में आर्थिक स्थिति खराब होने लगती है और घर में कोई न कोई बीमार रहने लगता है। आइए आपको बताते हैं घर में मौजूद कुछ ऐसी ही कमियों को दूर करने के उपाय-

बदनामी

वास्तुशास्त्र के मुताबिक घर के आग्नेय कोण में खाने का सामान भारी मात्रा में स्टोर करने से मालकिन और बेटी दोनों का स्वास्थ्य खराब रहने लगता है। यहां तक कि स्थिति समय रहते न संभाली जाए तो बेवजह बदनामी का भी सामना करना पड़ सकता है।

आर्थिक स्थिति

अगर किसी की कर्ज़ की समस्या लगातार बढ़ रहो, फिर लगातार घर के खर्चे बढ़ रहो हों या आमदनी कम हो तो घर के आग्नेय कोण को सही रखें। इस दिशा में पानी के टैंक न रखें। इस बात का भी ध्यान रखें कि इस जगह पानी निकासी का स्थान न हो। माना जाता है कि इससे आर्थिक तंगी की समस्या होने लगती हैं।

इस तरह हो बेडरूम की लाइट

अगर बेडरूम की लाइट सही न हो या पर्याप्त उजाला बेडरूम में न आता हो तो उस परिवार के सदस्यों में अशांति और उदासी बढ़ सकती है। इसलिए बेडरूम में हमेशा रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए।

भारी सामान

अगर आपके घर के बीचवाले भाग में भारी फर्नीचर रखा है तो उसे हटा दें। वास्तुशास्त्र में इस जगह को ब्रह्मस्थान माना गया है। इस जगह को खाली और हल्का रखना चाहिए। यहां भारी मशीनरी रखने से बचें।

स्वास्थ्य के लिए जरूरी है यह दिशा

वास्तु के अनुसार, आग्‍नेय कोण में हर रोज लाल रंग की मोमबत्‍ती जलाने से घर सभी सदस्‍यों का स्‍वास्‍थ्‍य सही रहता है। आग्नेय कोण का वास्तु सम्मत होना परिवार के लोगों के उत्तम स्वास्थ्य के लिए जरूरी है।

Back to top button