लंदन से सिर्फ वोट डालने के लिए भारत आया ये शख्स, जानें क्या कहा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 20 प्रदेशों की 91 लोकसभा सीटों और चार राज्यों की विधानसभा सीटों पर मतदान शुरू हो गया है। पहले चरण में आठ केन्द्रीय मंत्री समेत 1279 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होगा। पहले चरण के मतदान के लिए आयोग ने सभी जरूरी प्रबंध कर लिए हैं।

पहले चरण के मतदान में जिन प्रमुख नेताओं की किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी उनमें केन्द्रीय मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह, नितिन गडकरी, हंसराज अहीर, किरण रिजिजू, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी शामिल हैं। इस चरण में रालोद के अजीत सिंह का मुकाबला उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर सीट पर भाजपा के संजीव बालयान से है जबकि उनके बेटे जयंत चौधरी बागपत सीट पर केन्द्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह को चुनौती दे रहे हैं। लोजपा प्रमुख और केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान के सांसद पुत्र चिराग पासवान बिहार में जमुई सीट से उम्मीदवार हैं।

लंदन से सिर्फ वोट डालने के लिए भारत आए गीतेश त्यागी। मुजफ्फरनगर निवासी गीतेश लंदन में एक कंपनी में नौकरी करते हैं। उनका कहना है कि मतदान देश की मजबूती के लिए बहुत जरूरी है, जिसके लिए वे यहां सिर्फ वोट डालने आए हैं।

बिहार के गया के टनकुप्पा प्रखंड के बरसौना पंचायत की बेलदारबिगहा प्राइमरी स्कूल बूथ संख्या 89 के वोटरों ने वोट का बहिष्कार किया। मौके पर एडीएम राजकुमार सिन्हा व बीडीओ छोटे लाल पासवान नो पुरूष व महिला वोटरों को मतदान करने के लिए समझाने बुझाने का काफी प्रयास किया। लेकिन वोटरों ने बेलदार बिगहा, सदावा व दजियाचक भुईटोली के वोटरों ने अपने गांव में सड़क नहीं बनने की परेशानी को बताते हुए पदाधिकारीयों की बात मानने से इंकार किया।

इस मतदान के पीठासीन अधिकारी कृष्णा यादव ने बताया कि मतदान केंद्र पर 949 वोटर है। लगभग एक बजने को है। एक भी वोट नहीं पड़ा है। एडीएम राजकुमार सिन्हा ने कहा कि वोटरों को समझाने का प्रयास किया गया। लेकिन सड़क की समस्या को लेकर वोटर अड़े रहे। इनके अनुसार प्रयास विफल रहा।

हरिद्वार के कनखल दादूबाग में मतदान के बाद बाबा रामदेव बोले, जो अपेक्षाएं उन्हें मोदी सरकार से थी उनमें से कुछ पूरी हुई हैं। लोकतंत्र की रक्षा के लिए अपना वोट डालने आया हूं।

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में उत्तर प्रदेश की आठ सीट पर मतदान चल रहा है। आठों सीट पश्चिमी उत्तर प्रदेश की है। इन सीटों में मेरठ, सहारनपुर, कैरान, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बागपत, गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर शामिल हैं। इस बीच में मुजफ्फरनगर से भाजपा प्रत्याशी संजीव बालियान ने एक ऐसा बयान दिया जिस पर मुस्लिम प्रत्याशियों ने कड़ी आपत्ति दर्ज कराई। सुजड़ू समेत कई गांव में दौरा करने के बाद भाजपा प्रत्याशी संजीव बालियान ने लगाया आरोप, कहा- बुर्के में वोट डाल रही महिलाओं की नहीं की जा रही जांच। इस कारण फर्जी वोटिंग हो रही है।

उनके बयान के बाद निवार्चन अधिकारी ने कहा कि बिना पहचान के नहीं डालने दिया जा रहा किसी को भी वोट। इस बीच सहारनपुर से चुनाव लड़ रहे इमरान मसूद ने संजीव बालियान के बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बालियान को अपने दिमाग का इलाज कराना चाहिए। गठबंधन से कांग्रेस को कोई परेशानी नहीं है लोकसभा सीट पर कांग्रेसी विजय होगी। उन्होंने कहा कि महागठबंधन उनसे बहुत पीछे उनका मुकाबला भाजपा से है।

Back to top button