राष्ट्रीय

कोरोना काल में मालामाल हुआ यह राज्य, अब तक वसूला गया 15 करोड़ रुपयों का जुर्माना

राज्य में कोरोना काल के दौरान कुल 15 करोड़ रुपयों का संयोजन शुल्क/जुर्माना वसूला गया

नई दिल्ली: कोरोना काल में लॉकडाउन के मद्देनजर उत्तराखंड पुलिस ने अब तक तीन लाख लोगों पर कोरोना नियमों के उल्ल्घंन की कार्रवाई करते हुए 15 करोड़ रुपयों का जुर्माना वसूला है.

जानकारी के मुताबिक पुलिस एक्ट के अंतर्गत 2 करोड़, एमवी एक्ट के अंतर्गत 9 करोड़, डीएम एक्ट व महामारी विनियमावली के अंतर्गत 4 करोड़ रुपयों की वसूली हुई है. यानी राज्य में कोरोना काल के दौरान कुल 15 करोड़ रुपयों का संयोजन शुल्क/जुर्माना वसूला गया है.

इस बात की तस्दीक उत्तराखंड पुलिस में महानिदेशक अपराध व कानून-व्यवस्था के पद पर तैनात अशोक कुमार ने भी की है. उन्होंने कहा, “विभिन्न मामलों में कोरोना के नियमों के उल्लंघन में 15 करोड़ की रकम वसूली गई है.”

इस विकट परिस्थिति में भी आमजन से इतनी भारी रकम जुर्माने के तौर पर वसूल करने को लेकर आजतक ने उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अपराध व कानून-व्यवस्था अशोक कुमार से बात की तो उन्होंने बताया कि प्रदेश में अभी तक सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन पर 49852, मास्क न पहनने पर 303448, क्वारनटीन का उल्लंघन करने पर 942, सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने पर 212 व्यक्तियों पर अभियोग पंजीकरण और चालान की कार्रवाई की गई है.

अशोक कुमार के मुताबिक 4779 अभियोग अभी तक पंजीकृत किए गए हैं. इसके साथ ही पुलिस एक्ट के अंतर्गत 2 करोड़, एमवी एक्ट के अंतर्गत 9 करोड़, डीएम एक्ट व महामारी विनियमावली के अंतर्गत 4 करोड़ मिलाकर कुल 15 करोड़ रुपयों का संयोजन शुल्क वसूला गया है.

अशोक कुमार की मानें तो ये आगे भी ऐसे ही वसूला जाएगा. अगर कोई भी कानून का उल्लंघन करता पाया जाता है तो कानून सर्वोपरि है. उन्होंने आजतक से बातचीत के दौरान बताया कि हम भी नहीं चाहते कि लोग नियमों का उल्लंघन करें. मगर हम सिर्फ सबकी सुरक्षा को लेकर ही ऐसे कठिन क़दम उठाते हैं.

खुद पुलिस विभाग भी नहीं अछूता इस कोरोना के प्रहार से

राज्य में पुलिस विभाग भी कोरोना की चपेट में आने से नहीं बच सका. 1121 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. जिसमें से 765 पुलिसकर्मी स्वस्थ हो गए हैं और 623 पुलिसकर्मी वापस ड्यूटी करने लगे हैं. अभी तक 11738 पुलिसकर्मियों का कोरोना टेस्ट कराया गया है. एहतियातन अभी तक 4646 पुलिसकर्मियों को क्वारनटीन किया गया है, जिसमें से क्वारनटीन अवधि पूरी करने के बाद 4041 पुलिसकर्मी वापस ड्यूटी पर वापस आ चुके हैं.

इनमें अधिकारी और कर्मचारी सभी शामिल हैं. गौरतलब है कि इससे पहले उधम सिंह नगर के एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर, हरिद्वार के एसएसपी अबुदई सेंथिल और देहरादून के पुलिस अधीक्षक यातायात भी कोरोना का दंश झेल रहे हैं.

कोरोना की लगातार बढ़ती संख्या चिंता का विषय

इन सबके अलावा शहर में हालात दिनों-दिन काबू से बाहर होते चले जा रहे हैं. कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि एक बार काबू में आने के बाद अचानक से हर रो पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या अब 40 हजार का आंकड़ा पार कर चुकी है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button