इस बार दीवाली मनेगी अपने घर में…

रेवाडीह में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के प्रोजेक्ट पर तेजी से हो रहा काम, कलेक्टर भीम सिंह ने किया स्पॉट निरीक्षण

राजनांदगांव : रेवाडीह में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के हितग्राही इस बार इस बार दीवाली अपने घर में मनाएंगे, प्रोजेक्ट में तेजी से कार्य हो रहा है और इस रफ्तार के साथ कार्य होने पर दीवाली से पहले मकानों की फिनिशिंग कर लिए जाने की संभावना है। यद्यपि इसकी समय सीमा जून 2019 निर्धारित की गई है। कलेक्टर भीम सिंह ने आज रेवाडीह में बन रहे मकानों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापूर्वक और तेज निर्माण के लक्ष्य के साथ कार्य करें। साथ ही उन्होंने नियमित रूप से मानीटरिंग के निर्देश भी दिए।

मौके पर मौजूद नगर निगम कमिश्नर अश्विनी देवांगन ने बताया कि मानीटरिंग के लिए निगम के इंजीनियरों के अलावा राज्य से भी टेक्निकल एक्सपर्ट भेजे गए हैं जो मौके पर उपस्थित रहकर निर्माण कार्य के संबंध में फीडबैक देते हैं। कलेक्टर ने पूरे क्षेत्र में सौंदर्यीकरण के साथ बुनियादी सुविधाएँ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि अफोर्डेबल हाउसिंग के अंतर्गत हितग्राहियों का चिन्हांकन कर लिया गया है। मकानों की लागत राशि चार लाख रुपए है। इसमें 75 हजार रुपए की राशि हितग्राही अपनी ओर से देंगे। शेष राशि राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार के अनुदान की होगी। कलेक्टर ने इस मौके पर निर्माणाधीन बस स्टैंड परिसर का निरीक्षण भी किया। नगर निगम कमिश्नर अश्विनी देवांगन ने बताया कि इसका काम जुलाई तक पूरा हो जाएगा।

कलेक्टर ने यहाँ वाहनों की पार्किंग व्यवस्था, टिकिट काउंटर, वेटिंग रूम आदि देखे। साथ ही यहाँ होने वाले सौंदर्यीकरण कार्य की जानकारी भी ली। उन्होंने बस स्टैंड परिसर में एक सप्ताह के भीतर वाटर एटीएम लगाने के निर्देश दिए। कमिश्नर देवांगन ने बताया कि इसके साथ ही प्याऊ की व्यवस्था भी परिसर में की जा रही है। कलेक्टर ने फ्लोर के काम को देखा तथा इससे संतुष्टि जाहिर की। फिर उन्होंने ईंटों का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने ईंटों की मजबूती परखी और इनकी गुणवत्ता से असंतुष्टि जाहिर की।

निगम के सहायक अभियंता लदेर ने बताया कि टेस्टिंग के पश्चात् ईंटों का इस्तेमाल किया जा रहा है। लदेर के जवाब से असंतुष्ट कलेक्टर ने पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता समयलाल को ईंटों के नमूने की जाँच कराने के निर्देश दिए। उन्होंने लदेर को शो कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिये। कलेक्टर ने कहा कि निर्माण कार्य में गुणवत्ता सर्वोपरि है और इसकी नियमित मानीटरिंग होनी चाहिए। निर्माण सामग्री की गुणवत्ता की जाँच हो और इंजीनियर हर दिन यह सुनिश्चित करें।

1
Back to top button