इस बार दिवाली पर फिर रुलाएगी प्याज , कीमत हुई 50 रुपये के पार

हाल ही में अच्छी खबर आई थी कि थोक महंगाई दर सितंबर महीने में घटकर 2.6 फीसदी के स्‍तर पर पहुंच गई है जो कि अगस्‍त में 3.24 फीसदी थी. बताया गया कि सब्जियों के दाम घटने से यह राहत मिली है लेकिन प्याज के बढ़ते दामों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. त्योहार के समय में प्याज के बढ़ते दाम आपकी खुशियां थोड़ी फीकी कर सकते हैं.

दिल्ली के फुटकर बाजार में प्याज 50 रुपये/किलो तक पहुंच गया है. पिछले हफ्ते तक 35 से 40 रुपये प्रति किलो बिकने वाली प्याज त्योहार से ठीक पहले जनता पर महंगाई की एक और मार बनकर आई है. प्याज के दाम बढ़ने पर ‘आजतक’ ने दिल्ली के अलग-अलग बाज़ारों का जायजा लिया.

मयूर विहार इलाके में पिछले एक हफ्ते से प्याज के दामों में अचानक से तेजी आई है. यहां के सब्जी विक्रेता रंजीत ने बताया कि पिछले हफ्ते एक किलो प्याज का दाम 35 से 40 रुपये प्रति किलो था लेकिन गाजीपुर थोक मंडी में प्याज का दाम अचानक 40 से 42 रुपये तक पहुंच गए हैं जिस वजह से प्याज फुटकर कीमतों में बढ़ोतरी हुई है और प्याज के दाम 50 रुपये प्रति किलो तक बिक रहा है.

फुटकर दुकान पर लोग प्याज के दाम बढ़ने पर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं. मयूर विहार में रहने वाले धनंजय सिंह ने बताया कि त्योहार से पहले महंगाई बढ़ती जा रही है. पिछले हफ्ते की बजाय आज प्याज के लिए ज्यादा खर्च करना पड़ रहा है. सरकार से अपील है कि महंगाई रोकने के लिए ठोस कदम उठाए.

त्योहार के खर्चों के बीच प्याज के दाम बढ़ने से आम जनता परेशान

मयूर विहार में रहने वाले संजय ने बताया कि 100 रुपये की सब्जी खरीदने के लिए जाने पर 50 रुपये तो केवल प्याज में ही खर्च हो जाते हैं. संजय का कहना है कि रसोई में प्याज के बिना स्वाद वाली सब्जी बनाना मुमकिन नहीं है. दिवाली नजदीक है तो रिश्तेदारों का भी आना जाना लगा रहता है ऐसे में त्योहार से पहले खर्च बढ़ जाते हैं और बजट बनाना मुश्किल हो जाता है

Back to top button