इस बार हज यात्रा में बदल जाएगा इतिहास, पढ़े पूरी खबर

हज यात्रा के दौरान इस बार इतिहास बदलने वाला है। दरअसल, इस बार आजादी के बाद पहली बार इस साल भारत से रिकॉर्ड 1,75,025 तीर्थयात्री हज 2018 पर जाएंगे।

हज यात्रा को लेकर इस बार इतिहास बदलने वाला हैं ,दरअसल, इस बार आजादी के बाद पहली बार इस साल भारत से रिकॉर्ड 1,75,025 तीर्थयात्री हज 2018 पर जाएंगे। उन्होंने बताया कि हज के लिए कुल 3,55,604 आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें 1,89,217 पुरुष एवं 1,66,387 महिला आवेदक शामिल थे।

इस वर्ष कुल 1,28,002 मुस्लिम तीर्थयात्री हज पर जाएंगे

जानकारी के मुताबिक केंद्रीय अल्पसंख्यक मामले मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार भारत का हज कोटा लगातार दूसरे वर्ष बढ़ा पाने में कामयाब हो पाई है। इस वर्ष कुल 1,28,002 मुस्लिम तीर्थयात्री भारत की हज समिति के माध्यम से हज पर जाएंगे जिनमें 47 प्रतिशत महिलाएं शामिल हैं। 47,023 हज तीर्थयात्री निजी टूर ऑपरेटरों के जरिए हज पर जाएंगे। इसके अतिरिक्त, भारत से पहली बार, मुस्लिम महिलाएं बिना मेहराम (पुरुष साथी) के हज यात्रा पर जाएंगी। कुल 1308 महिलाओं ने बिना मेहराम (पुरुष साथी) के हज यात्रा के लिए आवेदन किया है और इनमें से सभी महिलाओं को लॉटरी स्स्टिम से छूट दे दी गई है और हज पर जाने की इजाजत दी गई है।

एयरलाइंस को दी गई सख्त हिदायत

केंद्र सरकार की पारदर्शिता के प्रति प्रतिबद्धता एवं किराए में अनुचित इजाफा रोकने के लिए एयरलाइंस को दी गई सख्त हिदायत से यह सुनिश्चित हुआ है कि हज 2018 के हवाई जहाज के किराए में इस वर्ष उल्लेखनीय कमी आई है। नकवी ने प्रशिक्षण शिविर में कहा कि हज प्रक्रिया को पूरी तरह ऑनलाइन/डिजिटल बनाए जाने से पूरी हज प्रक्रिया पारदर्शी और हज तीर्थयात्रियों के अनुकूल बन गई है।

Back to top button