राष्ट्रीय

आईएएस अधिकारी खेमका के तबादले के दो दिन बाद आया उनका यह ट्वीट

अशोक खेमका 1991 बैच के हरियाणा काडर के आईएएस

नई दिल्ली: 1991 बैच के इस आईएएस अधिकारी अशोक खेमका का अब तक उनके कैरियर में 50 बार से अधिक बार तबादला हो चुका है. यानी अशोक खेमका का यह 52वां तबादला है. इस तबादले के बाद अशोक खेमका ने ट्विटर पर अपनी बात रखी.

आईएएस अधिकारी अशोक खेमका ने मंगलवार को टि्वटर पर अपने तबादले को लेकर लोगों के सवालों के जवाब दिये. उन्होंने ट्वीट करते हुये कहा,‘किसके हितों की रक्षा करूं? तुम्हारा या उनका जिनका आप प्रतिनिधित्व का दावा करते हैं? दम्भ है हमें पैरों तले रौंदोगे. शौक से, कई बार सहा है, एक बार और सही.’

गौरतलब है कि 1991 बैच के इस आईएएस अधिकारी का ट्वीट उनके रविवार को हुये तबादले के दो दिन बाद आया है. उनका स्थानातंरण नौ अन्य अधिकारियों के साथ किया गया था. माना जाता है कि उनके अब तक के कैरियर में 50 से अधिक बार तबादला हो चुका है.

अशोक खेमका 1991 बैच के हरियाणा काडर के आईएएस हैं. 24 साल में 51 बार ट्रांसफर हो चुका है. गुरुग्राम में सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की जमीन सौदे से जुड़ी जांच के कारण अशोक खेमका सुर्खियों में रहे. कहा जाता है कि अशोक खेमका जिस भी विभाग में जाते हैं, वहीं घपले-घोटाले उजागर करते हैं, जिसके चलते अक्सर उन्हें ट्रांसफर झेलना पड़ता है.

भूपिंदर सिंह हुड्डा के शासनकाल में बतौर व्हिसिल ब्लोवरकई घोटालों का खुलासा कर चुके हैं. अशोक खेमका पश्चिम बंगाल के कोलकाता में पैदा हुए. फिर आईआईटी खड़गपुर से 1988 में बीटेक किए और बाद में कंप्यूटर साइंस में पीएचडी किए.

बिजनेस एडिमिनिस्ट्रेशन में उनके पास एमबीए की डिग्री भी है.नवंबर 2014 मेंतत्‍कालीन हुड्डा सरकार ने रॉबर्ट वाड्रा और डीएलएफ के लैंड डील से जुड़े खुलासे के बाद खेमका का तबादला परिवहन विभाग में कर दिया था. जिस पर सवाल उठे थे.

Tags
Back to top button