सऊदी सरकार के नए टैक्स से हजारों भारतीय लौट सकते हैं स्वदेश

सऊदी अरब में रहने वाले कुछ भारतीयों ने अपने आश्रितों को भारत वापस भेजने पर विचार किया है. इसकी वजह है वहां की सरकार का मासिक ‘फॅमिली टैक्स’ लेना, जो 1 जुलाई से लागू हो सकता है.

इस टैक्स के चलते प्रत्येक आश्रित के लिए शुल्क – 100 रियाल (लगभग 1700 रुपये)- भारतीय को सऊदी अरब सरकार को देना होगा. जो वहां रहने वाले भारतीयों के लिए एक बड़ा वित्तीय बोझ है. सऊदी अरब में भारतीय नागरिकों की संख्या लगभग 41 लाख है.

दम्म में रहने वाले एक कंप्यूटर प्रोफेसर मोहम्मद तहरे बताते हैं कि “मेरे कुछ जानने वाले हैं जो अभी सऊदी में अपने परिवार के साथ रहते हैं. लेकिन अब वह लोग हैदराबाद वापस जाना चाहते हैं. उन्हें लगता है कि अब वह सऊदी के खर्चों को उठाने में असमर्थ हैं.”

प्रवासी अधिकार कार्यकर्ता भीम रेड्डी मांधा बताते हैं कि कुछ लोग चार महीने पहले ही अपने परिवारों को भारत वापस भेज चुके हैं.

Back to top button