सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी

रायपुर।

सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला रॉनी ब्राउन काफी शातिर है। उसने जॉब कंसल्टेंसी चलाने वालों को इसमें शामिल किया था। उनके माध्यम से बेरोजगार आरोपी के पास पहुंचते थे। ठगी की राशि से आरोपी ने सात मंजिला बिल्डिंग खड़ी कर ली है। पुलिस को पिछले कई दिनों से चकमा दे रहा था। पुलिस ने शनिवार देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद उसे जेल भेज दिया।

उल्लेखनीय है कि राजातालाब निवासी रॉनी बेरोजगार युवक-युवतियों को राजभवन और मंत्रालय में अधिकारियों से अपने अच्छे संबंध होने का दावा करता था। इसके बाद उन्हें नौकरी दिलवाने का आश्वासन देता था। नौकरी के एवज में लाखों रुपए मांगता था। उसने किसी को क्लर्क, तो किसी को डाटा एंट्री ऑपरेटर और पटवारी बनाने के लिए पैसे लिए हैं, लेकिन किसी को नौकरी नहीं दिलाया। इसकी शिकायत पीडि़तों ने सिविल लाइन थाने में की थी।

इन लोगों से हुई ठगी

आरोपी ने कई लोगों को ठगा है, लेकिन पुलिस को मिली शिकायत के अनुसार मोहम्मद अजहर से 14 लाख, शीतलकुमार तारक से 4 लाख 10 हजार, राजेश कुमार साहू से 3 लाख 50 हजार, कोमल चंद देवांगन से 4 लाख, राम सजीवन साहू से 10 लाख 85 हजार रुपए, समीर गुप्ता से 4 लाख 50 हजार और नवीन कुमार नेताम से 13 लाख 50 हजार रुपए लिया है।

कई बार दे चुका था चकमा

आरोपी की शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने उसे पकडऩे के लिए कई बार कोशिश की। आरोपी चकमा देकर फरार हो जाता था। शनिवार को पुलिस ने तगड़ी घेरेबंदी की और उसे धरदबोचा। आरोपी और उसकी पत्नी बुटिक का कारोबार भी करते हैं। आरोपी का जॉब कंसल्टेंसी चलाने वालों से संपर्क हैं। कंसल्टेंसी वालों के माध्यम से बेरोजगार उनके पास तक पहुंचते थे।

1
Back to top button