अंतर्राष्ट्रीयटेक्नोलॉजी

छह महीने के अभियान के बाद सुरक्षित आईएसएस में लौट आए तीन अंतरिक्ष यात्री

चिकित्सा जांच के बाद तीनों को हेलीकॉप्टर से देजकाजगन लाया जाएगा

नई दिल्ली: नासा के तीनों खगोल यात्रियों(क्रिस केसिडी, रूस के अनातोली इवानिशीन और इवान वेगनर) को सोयूज कैप्सूल ने कजाखस्तान के देजकाजगन शहर के दक्षिण पूर्व में बृहस्पतिवार सुबह 7:54 मिनट पर उतरा। अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में छह महीने के अभियान के बाद तीन अंतरिक्ष यात्री सुरक्षित धरती पर लौट आए।

चिकित्सा जांच के बाद तीनों को हेलीकॉप्टर से देजकाजगन लाया जाएगा। यहां से वे अपने घरों के लिए रवाना होंगे। कोरोना वायरस महामारी के कारण अतिरिक्त सावधानी को ध्यान में रखते हुए रूसी बचाव दल की टीम के साथ जब उनकी (अंतरिक्ष यात्रियों) मुलाकात हुई तो उससे पूर्व उनकी कोरोना वायरस जांच की गई।

राहत प्रयासों में शामिल लोगों की संख्या सीमित थी। केसिडी, इवानिशीन एवं वेगनर अप्रैल से ही अंतरिक्ष स्टेशन में रह रहे थे। नासा के केट रूबिंस, रूस के सर्गेई रेजिकोव तथा सर्गेई कुद-सेवरेचकोव एक सप्ताह पहले छह महीने के लिए अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुंच चुके हैं।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के ओसीरिस-रेक्स अंतरिक्ष यान ने एस्ट्रायड (क्षुद्र ग्रह) बेन्नू केनमूने एकत्रित कर लिए हैं। वैज्ञानिकों ने बताया कि यान के ग्रह की चट्टानों को छूने के बाद धूल उड़ी है, इससे इस बात के संकेत मिलते हैं कि उसने ग्रह के नमूने एकत्रित कर लिए हैं। नासा को उम्मीद है कि अंतरिक्ष यान के लाए गए नमूनों की मदद से 4.5 अरब साल पुराने सौरमंडल की उत्पत्ति के राज खुलेंगे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button