DM सहित तीन IAS ने आँगनबाड़ी केन्द्र में किया बच्चों के साथ भोजन

अम्बिकापुर।

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर आज 11 अक्टूबर को मतदाता जागरूकता अभियान स्वीप के तहत 571 गाँव के बच्चों, 18 वर्ष से अधिक उम्र की बालिकाओं एवं महिलाओं को अक्षय पात्र – मतदान की थाली परोसी गई। इस अवसर पर महिलाओ ने संकल्प लिया की जिस प्रकार वो सुपोषित भोज से अपने बालक एवं बालिका के स्वस्थ व उज्जवल भविष्य की कामना करती हैं।

उसी प्रकार वो निष्पक्ष मतदान करके लोकतंत्र को पोषित करके देश व प्रदेश के उज्जवल भविष्य के लिए काम करेंगी। इसमें निर्वाचन आयोग के लोगो की तरह थाली परसोई गई। साथ ही सुपोषित भोज-सजग मतदान, इसी से बनेगा प्रदेश महान का नारा दिया गया।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सारांश मित्तर ने कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं एवं बच्चों को सम्बोधित करते हुये कहा कि मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदाताओं द्वारा अधिक से अधिक संख्या में अपने मताधिकार का उपयोग आवश्यक है। उन्होंने महिलाओं से कहा कि जिस प्रकार आप अपने बच्चे के उज्जवल भविष्य के लिए उनके सुपोषण का ध्यान रखते हैं उसी प्रकार लोकतंत्र को सुपोषित करने के लिए मतदान में अपनी भागीदारी अवश्य सुनिश्चित करें तथा दूसरों को भी इस हेतु प्रेरित करें।

उन्होंने कहा कि अच्छे लोकतंत्र के लिए पूरी निष्पक्षता एवं किसी भी प्रकार के लालच में आये बिना योग्य प्रत्याशी का चयन आवश्यक है। इस अवसर कलेक्टर डॉ. मित्तर, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता गांधी एवं सहायक कलेक्टर आकश छिकारा ने बच्चों के साथ भोजन ग्रहण किया।

कार्यक्रम में स्वीप के सहायक नोडल अधिकारी गिरीश गुप्ता, किशोरी बालिकाएँ, शिशुवती एवं गर्भवती माताएँ, दिव्यांग एवं तृतीय लिंग तथा प्राथमिक शाला, पूर्व माध्यमिक शाल एवं आँगनबाड़ी केन्द्र खैरबार के बच्चे तथा शिक्षक-शिक्षिकाएँ उपस्थित थे।

Back to top button